अर्नब की लाश पर राजनीती खेलने की तैयारी है ? उसके मरने का किया जा रहा इंतज़ार ?


ये वही देश है जहाँ NDTV नाम के देशद्रोही और भ्रष्ट्र चैनल पर सिर्फ 1 घंटे के बैन की बात हुई थी तब इस देश में भूचाल सा मचा दिया गया था, सरकार ने भी उसके बाद NDTV पर 1 घंटे का बैन कभी नहीं लगाया 

और ये वही देश है जहाँ देश के नंबर 1 पत्रकार अर्नब गोस्वामी कई दिनों से जेल के अंदर सड़ाये जा रहे है, वो चींख चींख कर बता रहे है की उनकी जान खतरे में है, उनको मारा जा रहा है 

इस देश में सरकार सोनिया गाँधी की नहीं है, सच्चाई ये है की इस देश में सरकार नरेंद्र मोदी की है, नरेंद्र मोदी के पास वो शक्तियां है जिस से वो मरे को जिन्दा करने के अलावा कोई भी काम कर सकते है

बीजेपी के पास पूर्ण बहुमत है, पर जिस तरह बीजेपी अर्नब गोस्वामी पर चुप है और सोनिया गाँधी की सरकार अर्नब गोस्वामी पर अत्याचार पे अत्याचार कर रही है उस से अब दाल में कुछ काले का अहसास हो रहा है 

इस से पहले मुंबई में संजय राउत और देवेंद्र फडणवीस की गुप्त मीटिंग हुई थी, इसी मीटिंग के बाद पालघर और सुशांत का मुद्दा दबने लगा, बॉलीवुड वालो के ड्रग्स का मुद्दा भी दब गया, इसके बाद से ही अर्नब गोस्वामी पर केस पर केस होने लगे, कंगना का घर भी तोड़ दिया गया, जो कुछ हुआ वो सब संजय राउत और फडणवीस की मीटिंग के बाद हुआ 

अब अर्नब गोस्वामी जेल में है, और बता रहे है की उनको मारा जा रहा है 

बीजेपी जिस तरह से सिर्फ कुछ ट्वीट्स करने के बाद मौन की मुद्रा में है अब ऐसा प्रतीत होता है की बीजेपी अर्नब की लाश पर राजनीती खेलने की तैयारी में है, और अब बस अर्नब गोस्वामी के मरने का ही इंतज़ार किया जा रहा है