सस्पेंड होते ही सुधरे इंतज़ार अली, अब दाढ़ी कटवाकर हाजिर हुए, SP ने बहाल किया, अब मान रहे नियम कानून


SP अभिषेक सिंह ने एक नहीं बल्कि 3-3 बार चेतावनी दी थी, पर सब इंस्पेक्टर इंतज़ार अली सोच रहे थे की कोई फर्क नहीं पड़ता वो तो शरिया से ही चलेंगे 

3 बार चेतावनी के बाद भी नहीं माने तो SP ने सस्पेंड कर दिया 

नियम बड़ा साफ़ है और नियम ये है की - देश में सिर्फ सिखों को ही फाॅर्स की नौकरियों में दाढ़ी रखने की इज़ाज़त है, पर इंतज़ार अली नियम कानून को छोड़कर शरिया पर चल रहे थे

SP अभिषेक सिंह ने सस्पेंड कर दिया तो उसके तुरंत बाद इंतज़ार अली सुधर गए और वो शरिया से संविधान पर आ गए, इंतज़ार अली ने सस्पेंड होते ही दाढ़ी कटवा ली और SP अभिषेक सिंह के सामने हाज़िर हुए 

SP ने भी उन्हें फिर से बहाल कर दिया, अब इंतज़ार अली नियम और कानून मान रहे है और दाढ़ी करवाकर ड्यूटी कर रहे है