थाने में प्रदीप भंडारी के साथ मारपीट, फ़ोन छीना, कोर्ट के फैसले के खिलाफ जाकर हिरासत में


मुंबई पुलिस ने हाल ही में पत्रकार प्रदीप भंडारी के खिलाफ FIR लिखा था जिसके खिलाफ प्रदीप भंडारी ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और कोर्ट ने उन्हें जमानत दी थी 

अब मुंबई पुलिस ने कोर्ट के फैसले के खिलाफ जाकर पत्रकार प्रदीप भंडारी को हिरासत में लिया है साथ ही उनके साथ थाने में मारपीट भी की गयी है, पुलिस ने गैर क़ानूनी तरीके से प्रदीप भंडारी का फ़ोन भी छीना है 

सबकुछ मुंबई के खार पुलिस स्टेशन में हुआ है जहाँ प्रदीप भंडारी को बुलाया गया था 

केस में कोर्ट ने पहले से प्रदीप भंडारी को जमानत दिया हुआ है इसके बाबजूद पुलिस ने उन्हें गैर क़ानूनी तरीके से हिरासत में लिया गया 
प्रदीप भंडारी अर्नब गोस्वामी के साथ मिलकर लगातार पालघर के साधुओं और बॉलीवुड और ड्रग माफिया के खिलाफ आवाज उठा रहे थे, इसके साथ वो सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलवाने के लिए भी आवाज उठा रहे थे और इसी कारण महाराष्ट्र की वर्तमान सरकार ने उनके खिलाफ केस लिखा था

कोर्ट ने जमानत दी थी पर इसके बाबजूद प्रदीप भंडारी को कोर्ट के फैसले के खिलाफ जाकर हिरासत में लिया गया और उनको मारा पीटा गया