सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण को सुनाई जबरजस्त सजा, निकाली सारी हेकड़ी, और बताई असल औकात


कोर्ट के अवमानना के मामले में आज सुप्रीम कोर्ट ने कुख्यात वकील प्रशांत भूषण की सारी की सारी हेकड़ी निकाल दी है

कोर्ट ने अवमानना के मामले में भूषण को 24 अगस्त तक माफ़ी मांगने को कहा था, भूषण ने माफ़ी मांगने से इंकार कर दिया और इसके बाद खुद की तुलना बड़े बड़े लोगो के साथ करने लगा 

आज सुप्रीम कोर्ट में प्रशांत भूषण मामले की फिर सुनवाई हुई और कोर्ट ने भूषण को जबरजस्त सजा सुनाई जिसने भूषण की सारी हेकड़ी भी निकाल दी और इसकी असल औकात भी बता दी 

कोर्ट ने भूषण पर 1 रुपए का जुर्माना लगाया है, अब इसमें 2 चीजें है 

पहली ये की अगस्त भूषण 1 रुपए का जुर्माना नहीं भरता तो फिर उसे सीधे 3 महीने की जेल होगी साथ ही भूषण 3 साल तक वकालत नहीं कर सकेगा, उसपर 3 साल तक का प्रतिबन्ध लग जायेगा 

दूसरा ये की अगर प्रशांत भूषण 1 रुपए का जुर्माना भर देता है तो वो फिर अपने अपराध को स्वीकार कर लेगा, ऐसी सूरत में वो ये नहीं बोल सकेगा की उसने कोर्ट से माफ़ी नहीं मांगी, भूषण जो खुद को कई दिनों से महान घोषित किये हुए है उसकी सारी इज्ज़त मिटटी में मिल जाएगी 

दोनों ही सूरतों में भूषण की हार होगी, या तो वो जेल जायेगा और 3 साल का बैन झेलेगा और या फिर 1 रुपए का जुर्माना भर अपने अपराध को स्वीकार करेगा, कोर्ट ने इस जबरजस्त सजा से भूषण की सारी हेकड़ी भी निकाल दी और उसकी असल औकात भी बता दी