आतंकवादियों को खुश करने के लिए केजरीवाल ने वन्दे मातरम करने से किया इंकार, दिखाई बेशर्मी


वन्दे मातरम का साफ़ मतलब होता है, ऐ मातृभूमि तुझे नमन, सिर्फ देशद्रोही और आतंकवादी किस्म के लोग ही वन्दे मातरम का विरोध कर सकते है 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने आज 15 अगस्त को वन्दे मातरम का अपमान किया और ये अपमान केजरीवाल ने आतंकवादियों को खुश करने के लिए किया 

दरअसल आज प्रधानमंत्री मोदी लाल किले पर तिरंगा फहराने के बाद देश के नाम अपना संबोधन दे रहे थे, उनका संबोधन ख़त्म हुआ तो मोदी ने वन्दे मातरम के नारे लगवाए

केजरीवाल भी इस कार्यकर्म में शामिल था पर केजरीवाल ने वन्दे मातरम के नारे लगाने से साफ़ इंकार कर दिया और चुप चाप बैठा रहा 

देखिये 

देश में आतंकवादी वन्दे मातरम का विरोध करते है, कुछ आतंकवादी कहते है की उनका मजहब वन्दे मातरम के वजह से खतरे में आ जाता है इसलिए वो इस देश को नमन नहीं कर सकते 

अब इन्ही आतंकवादियों को खुश करने के लिए केजरीवाल ने भी नीचता और बेशर्मी का नंगा नाच दिखाया और साबित कर दिया की केजरीवाल आतंकवादियों का ही साथी है, वैसे दिल्ली को जलाने वाला ताहिर हुसैन भी केजरीवाल का ही साथी था