"संसद पर हमला हो गया, बड़ा अच्छा दिन था वो, हमने तो दारू पी" : राजदीप सरदेसाई


दिसंबर 13 2001, उस दिन भारत के लोकतंत्र पर इस्लामिक आतंकवादियों ने हमला किया, उस हमले का मास्टरमाइंड अफज़ल गुरु था 

हमला संसद पर किया गया और उस समय संसद में कई सांसद और मंत्री मौजूद थे, उस दिन को याद करते हुए राजदीप सरदेसाई ने अपनी ख़ुशी को खुलकर जाहिर किया 

एक इंटरव्यू में कथित पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने संसद हमले वाले दिन को बड़ा ही अच्छा दिन बताया 

राजदीप सरदेसाई ने कहा की - वो तो एक बड़ा ही अच्छा दिन था, मैं वहीँ संसद में ही था और अपने साथी के साथ बैठा था, हमने दारू (वाइन) पी और हम एन्जॉय कर रहे थे 

राजदीप ने बताया की तभी संसद पर हमला हो गया, तो मैंने अपने साथी को  कहा की - गेट बंद कर दो जल्दी, ताकि कोई और न्यूज़ वाला न घुस पाए और सारा न्यूज़ और फुटेज सिर्फ हमे मिले

राजदीप ने कहा की - उस दिन तो मजा आ गया 

देखिये 
राजदीप  सरदेसाई ये सब बताते हुए काफी हंस भी रहा है जिसे आप ऊपर विडियो में देख सकते है

बता दें की संसद हमले के दिन संसद की रक्षा करते हुए हमारे देश के कई जवान बलिदानी हुए थे, इसके अलावा कुछ सिविलियन नागरिको को भी अपनी जान गंवानी पड़ी थी और ऐसे दिन को राजदीप सरदेसाई "बड़ा ही अच्छा दिन" बता रहा है