भारत ने घुसकर मारा, भारतीय सेना के कब्जे में 25-30 चीनी सैनिक, गिदगिड़ा रहा है चीन, कर रहा है 'प्रार्थना'


आज सुबह 31 अगस्त को भारतीय सेना ने एक बयान जारी किया और बताया की पांगोंग लेक के साउथर्न इलाके में भारत और चीनी सेना के बीच भिडंत हुई है और भारतीय सेना ने चीनी सेना को मुहतोड़ जवाब दिया है, भारतीय सेना ने इसके अलावा कुछ नहीं कहा 

पर अब चीन की ओर से और मिलिट्री एक्सपर्ट्स की ओर से कई अहम् जानकारियां निकलकर सामने आ रही है, चीन ने आधिकारिक तौर पर भारत से 'प्रार्थना' तक की है 

चीन की भाषा दुसरे देशों के प्रति हमेशा से ही आक्रामक रहती है, चीन दुसरे देशों को हमेशा धमकियाँ ही देता है पर इस बार चीन भारत से 'प्रार्थना' कर रहा है, चीन ने 'प्रार्थना' शब्द का इस्तेमाल किया है, पहले ये देखिये 

चीन ने आधिकारिक रूप से कहा की - भारतीय सेना चीन के अन्दर घुस आई है, चीन भारत से 'प्रार्थना' करता है की भारतीय सेना को वापस बुलाया जाए
चीन दुसरों को धमकियाँ देने वाला देश है पर वो भारत से प्रार्थना कर रहा है और इसका कारण क्या है ये आप देखिय, मिलिट्री एक्सपर्ट्स से जो जानकारियां मिल रही है वो काफी अहम है, भारतीय सेना ने घुसकर चीन की सेना को रौंदा है, चीन की सेना ने मई में जो भारत के साथ किया था वही भारतीय सेना ने चीन के साथ अगस्त में किया है

भारतीय सेना ने चीन के अन्दर स्ट्राइक की है
जानकारी ये भी सामने आई है की भारतीय सेना ने चीनी सेना के 25-30 सैनिको को कब्जे में भी लिया हुआ है, भारतीय सेना के स्पेशल फोर्सेज ने ऑपरेशन किया है और चीन के 25-30 सैनिको को कब्जे में लिया गया है और इसी कारण धमकियाँ देने वाला चीन इस बार 'प्रार्थना' कर रहा है 

चीन काँप उठा है क्यूंकि भारत पहली बार आक्रामक हुआ है, हर बार भारत डिफेंस करता है पर इस बार भारत आक्रामक है और चीन का डिफेंस पूरी तरह फेल हो चूका है, चीन को डर है की भारतीय सेना अब चीन के अहम् पोस्ट्स पर कब्ज़ा न कर ले इसी कारण चीन अब 'प्रार्थना' कर रहा है