कल बीजेपी MLA को मारकर टांगा आज विरोध पर बीजेपी कार्यकर्त्ता की टाँगे तोड़ी, गज़ब का आतंक



बंगाल में लोकतंत्र है अगर कोई ऐसा कहे तो या तो वो घृणित मजाक कर रहा है या झूठ बोल रहा है, बंगाल में सिर्फ आतंक का राज है और ये आतंक रोज देखने को मिलता है, हां इसपर मीडिया कभी बात नहीं करती 

कल बंगाल में एक बीजेपी विधायक को मारकर टांग दिया गया, एक दूकान के बाहर उनके शव को टांगा गया और मेसेज दिया गया की जो TMC के खिलाफ गया उसका यही अंजाम होगा 

इसके बाद आज बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने अपने विधायक की हत्या का विरोध किया तो बीजेपी के कार्यकर्त्ता की दोनों टाँगे तोड़ दी गयी 

यही हम तो तुम्हे मारेंगे, और अगर तुम विरोध भी करोगे तो फिर मारेंगे
अब आप कहिये की बंगाल में लोकतंत्र है

आपको एक और बात बता दें की कल जिस बीजेपी विधायक को मौत के घाट उतार कर टांग दिया गया था वो आदिवासी भी थे 

आपको धर्मान्तरित इसाई रोहित वेमुला याद होगा जो की आदिवासी भी नहीं था, उसपर कितना बवाल मचाया गया था, पर असली आदिवासी को मारकर टांग दिया गया अब चारो ओर सन्नाटा है full-width