CD वालो को प्रदेश अध्यक्ष बना रही वहीँ सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष से हटा रही कांग्रेस, वाह कांग्रेस वाह



कांग्रेस ने साफ़ कर दिया है की पार्टी में सिर्फ ऐसे लोगो ही रह सकते है जो की एक परिवार की गुलामी कर सके, परिवार कहे तो बैठे, परिवार कहे तो उठे, बाकि स्वाभिमानी नेताओं के लिए पार्टी में कोई स्थान नहीं है 


कांग्रेस ने पिछले 1 हफ्ते में 2 बड़े काम किये है और ये दोनों काम अलग अलग राज्यों में किये है 

गुजरात में कांग्रेस ने हार्दिक पटेल को अपना प्रदेश अध्यक्ष बनाया है, हार्दिक पटेल वो शख्स है जो की अलग अलग लड़कियों के साथ नंगा कृत्य करते CD में पकडाया था, एक चरित्रहीन शख्स, साथ ही उसपर गुजरात में दंगे फसाद को लेकर केस भी है, ऐसे शख्स को कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष बनाया है 

वहीँ राजस्थान में आज कांग्रेस ने सचिन पायलट को प्रदेश अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री के पद से हटा दिया 

राजस्थान में साल 2013 को विधानसभा चुनाव हुए थे, अशोक गहलोत मुख्यमंत्री थे, तब कांग्रेस को 200 में से सिर्फ 21 सीटें मिली थी, वो चुनाव अशोक गहलोत के नेतृत्व में ही लड़ा गया था 


फिर राजस्थान में साल 2018 में चुनाव हुए और ये चुनाव सचिन पायलट के नेतृत्व में लड़ा गया था, सचिन पायलट ही कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष थे, 21 सीटों वाली कांग्रेस सचिन पायलट के नेतृत्व में सत्ता में पहुँच गयी, पर मुख्यमंत्री बना दिया गया कांग्रेस को 21 सीटों पर पहुंचाने वाले अशोक गहलोत को 

आज कांग्रेस हार्दिक पटेल जैसों को प्रदेश अध्यक्ष बना रही है और सचिन पायलट जैसो को प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी से हटा रही है, कांग्रेस साफ़ कर रही है की पार्टी में सिर्फ चाटुकारिता के लिए स्थान है, यहाँ स्वाभिमान और टैलेंट के लिए कोई स्थान नहीं full-width