जिंदल ग्रुप के मालिक ने कहा - सेना बॉर्डर पर तो हमे आर्थिक मोर्चे पर चीन को पीटना है, अब बहुत हुआ



भारतीय सेना, भारतीय सरकार, भारत की राष्ट्रवादी जनता के बाद अब भारत के बड़े कारोबारी भी चीन को सबक सिखाने का मन बना चुके है और अब भारत के बड़े कारोबारी ग्रुप ने चीन के बहिष्कार की शपथ ली है 

जिंदल ग्रुप ने चीन के साथ व्यापार ख़त्म करने की शपथ ली है, जिंदल ग्रुप चीन से 30 अरब भारतीय रुपए का माल खरीद रहा था जिसे अब जीरो करने की घोषणा की गयी है 

जिंदल ग्रुप के मालिक सज्जन जिंदल ने कहा है की - मैं भारत के कारोबारियों से अपील करता हूँ की वो भारत के दुश्मन देशों से व्यापार बंद कर दे, ये हमारा कर्तव्य है की हम भारत के दुश्मन देशों से कारोबार न करे 

सज्जन जिंदल ने आगे कहा की - हमारे सैनिक बॉर्डर पर लड़ रहे है और हमे आर्थिक मोर्चे पर लड़ना है और चीन का बहिष्कार किया जाना चाहिए 

देखिये 

सज्जन जिंदल के इस बयान के बाद उनके बेटे और जिंदल ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर पार्थ जिंदल ने शपथ ली की उनका ग्रुप अब चीन से इम्पोर्ट को जीरो करेगा
पार्थ जिंदल ने बताया की उनका ग्रुप चीन से 400 मिलियन डॉलर यानि लगभग 30 अरब रुपए का माल खरीद रहा था जिसे अब अगले 2 साल में जीरो कर दिया जायेगा, अब जिंदल ग्रुप को भले ही माल थोडा महंगा खरीदना पड़े पर अब दुसरे विकल्पों की तलाश की जाएगी full-width