1860 में चीन को रौंदने वाला विडियो शेयर कर पुतिन ने दिया क्लियर मेसेज, फिर रौंद देंगे चीन को



भारत में पुरानी कहावत है की पापी के पाप का घड़ा कभी न कभी भरता ही है और वामपंथी चीन के पाप का घड़ा अब भरता हुआ नजर आ रहा है 

अपने कई पडोसी देशों के इलाकों को अपना बताने के बाद अब चीन ने रूस के एक शहर "व्लादिवोस्टोक" को अपना इलाका बता दिया और कहा की 1860 में रूस ने चीन पर हमला कर इस शहर पर कब्ज़ा कर लिया जबकि ये चीन का इलाका है 

वहीँ रूस ने साफ़ कर दिया की इलाका तो उसी का है और इलाके का तो नाम "व्लादिवोस्टोक" तक रुसी भाषा से है, चीन अपने दुसरे पड़ोसियों के बाद रूस के इलाके को अपना बता रहा है 

इस घटना के बाद रूस ने 1860 के युद्ध की जीत पर एक विडियो शेयर किया, रूस ने चीन को रौंदा था और उसी जीत का विडियो रूस की एम्बेसी में शेयर किया 

देखिये ये विडियो भारत में रूस की एम्बेसी ने शेयर किया 
रुसी एम्बेसी ने ये विडियो ऐसे समय में शेयर किया जब चीन ने रूस के व्लादिवोस्टोक को अपना इलाका बताया, इस विडियो को शेयर कर पुतिन ने जिनपिंग को साफ़ सन्देश दिया है की 1860 में भी हमने चीन को रौंद दिया था और अगर चीन अब कोई नयी हरकत करता है तो फिर चीन को रौंद दिया जायेगा

आपको ये भी बता दें की रूस ने भारत को 33 फाइटर जेट्स भी इमरजेंसी में डिलीवर करने की डील की है, कुछ हफ़्तों में भारत को ये फाइटर जेट्स मिल जायेंगे, इनमे 21 मिग-29 और 12 सुखोई 30 फाइटर जेट शामिल है, इसके अलावा रूस ने भारत को किसी भी प्रकार की हथियारों की कमी न होने देने की बात भी कही है, साफ़ है की अब चीन की हरकतें बढती है तो उसकी मौत आनी तय है  full-width