प्रियंका वाड्रा को 1 महीने में सरकारी बंगला खाली करने का आदेश, 3 दशक से कब्ज़ा जमाये हुए है



दिल्ली में सबसे अहम् इलाके को लुटियन कहा जाता है, इस इलाके में संसद से लेकर राष्ट्रपति भवन, प्रधानमंत्री, मंत्रियों, सांसदों के बंगले है, ये देश का सबसे अहम् और महंगा इलाका है 

इस इलाके में एक रोड हिया जिसे लोधी रोड कहते है और इसी रोड पर प्रियंका वाड्रा एक सरकारी बंगले पर लगभग 3 दशकों से कब्ज़ा जमाये बैठी है 

जिस सरकारी बंगले पर प्रियंका वाड्रा ने कब्ज़ा जमा रखा है उसका पता है 35 लोधी एस्टेट, ये बंगला कई एकड़ में फैला हुआ है 

प्रियंका वाड्रा न सांसद है और न ही किसी पद पर है पर वो इस बंगले पर 3 दशकों से कब्ज़ा जमाये हुए है, पर अब मोदी सरकार ने आख़िरकार इस बंगले को आजाद करवाने का निर्णय ले लिया है 

सरकार ने प्रियंका वाड्रा को सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दे दिया है, प्रियंका वाड्रा को 1 महीने का नोटिस दिया गया है, आज 1 जुलाई है और 1 अगस्त तक प्रियंका वाड्रा को बंगला खाली करना है 

अगर प्रियंका वाड्रा 1 अगस्त तक बंगला खाली नहीं करती तो फिर सरकार अपने तरीके से बल पूर्वक बंगले को खाली करवाएगी 

प्रियंका वाड्रा को ये बंगला कांग्रेसी सरकार ने लगभग 3 दशक पहले ये कहकर दिया था की वो प्रधानमंत्री की बेटी है और उसे SPG सुरक्षा प्राप्त है, मोदी सरकार ने हाल ही में प्रियंका वाड्रा से SPG सुरक्षा भी वापस ले ली थी और अब सरकारी बंगले को भी आजाद करवाया जा रहा है full-width