PM मोदी ने भारतीय सेना के लिए खुलवा दिए चीनी समुन्द्र के द्वार, भारतीय सेना को ऑस्ट्रेलिया ने दी आने जाने की छूट


चीन को कोरोना फैलाने की सजा मिलेगी, चाहे इसमें थोड़ा समय लगे पर दुनिया भर के देश चीन को अपने तरीके से सबक सिखाने की तैयारी में लग गए है और 2 देश जो चीन को सबक सिखाने के लिए सबसे ज्यादा कार्यवाही कर रहे है उनमे पहले नंबर पर अमेरिका और दूसरे नंबर पर भारत है 

आज भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऑस्ट्रेलिया ने प्रधानमंत्री स्कॉट मोर्रिसन के साथ वर्चुअल मीटिंग की है जिसमे भारत और ऑस्ट्रेलिया ने एक अहम् समझौता किया है 

भारत और ऑस्ट्रेलिया अब एक दूसरे के बंदरगाह तक सेनाओं को आने जाने की,  सामान ले जाने, पहुंचाने की छूट देंगे, दोनों देशों की सेना एक दूसरे के समुंद्री सीमा का इस्तेमाल कर सकेंगी 

कहने को तो ये सिर्फ सामान के आदान प्रदान के लिए किया गया समझौता है पर असल में प्रधानमंत्री मोदी ने साउथ चीन के समुन्द्र में भारतीय सेना की आवाजाही के लिए मार्ग खोल दिया है 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार चीनी सीमा पर भारतीय सेना को मजबूत कर रहे है, इसी कारण उन्होंने हाल ही में लद्दाख में रोड कंस्ट्रक्शन के काम को और तेज करने का फैसला किया है जिसे रुकवाने के लिए चीन ने भारत की सीमा पर अपनी सेना द्वारा तनाव बढ़ाया हुआ है 

नरेंद्र मोदी साफ़ कर चुके है की भारत अब रुकने वाला नहीं, भारत अपनी सीमा को मजबूत करेगा, अपनी सेना को मजबूत करेगा और चीन से कोई कंपनी भारत शिफ्ट होना चाहती है तो भारत उसका पूरा सहयोग करेगा

सरकार ने साफ़ कर दिया है की आज का भारत सिर्फ अपनी इक्षा से चलेगा, चीन भारत पर आज कोई दबाव नहीं बना सकता full-width