Massive : चीन के 15 हज़ार के मुकाबले भारत ने 45 हज़ार सैनिक भेजे, टैंक, सुखोई, अपाचे लगाये



भारत एक बड़ी तैयारी कर रहा है और मुमकिन है की पाकिस्तान पर PM मोदी के भारत ने ने जो सर्जिकल स्ट्राइक और फिर एयर स्ट्राइक किया था, चीन के खिलाफ उस से भी बड़ा एक्शन लिया जाये 

आपको ध्यान होगा जब उडी हमला हुआ था तब भारत ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक किया था, कुछ दिनों की प्लानिंग के बाद ये स्ट्राइक की गयी थी 

इसके बाद जब पुलवामा हमला हुआ उसके बाद भी भारत ने कुछ दिनों की प्लानिंग के बाद एयर स्ट्राइक की थी, पर इन दोनों में ही सेना का कोई खास मूवमेंट नहीं किया गया था, ये सिर्फ स्ट्राइक ही था, कोई युद्ध नहीं 

जबकि चीन को लेकर एक बड़ी तैयारी में है भारत, भारत चीन को सबक सिखाने के मूड में है, 1962 का बदला लेने के मूड में है 

खबर ये है की भारत ने लद्दाख की सीमा पर सेना के 3 डिवीज़न भेजे है, 1 डिवीज़न का साफ़ मतलब 15 हज़ार सैनिक, यानि 3 डिवीज़न मतलब 45 हज़ार सैनिक, इसके साथ साथ भारत ने सीमा पर सुखोई 30 फाइटर जेट्स लगाये है वो भी फुल्ली लोडेड, साथ ही साथ भारत ने अपाचे अटैक हेलीकाप्टर भी लगाये है वो भी फुल्ली लोडेड, इसके साथ साथ भारत ने टैंक्स की भी तैनाती कर दी है 

इतनी तैयारी स्ट्राइक के लिए नहीं की जाती, ऐसी तैयारी किसी देश को बड़ा सबक सिखाने के लिए की जाती है, इतिहास बनाने के लिए की जाती है

आपको ये भी बता दें की सीमा पर दूसरी तरफ चीन ने 15 हज़ार सैनिक तैनात किये हुए है, पर भारत ने अब 45 हज़ार सैनिक भेज दिए है, साफ़ होता है की प्रधानमंत्री मोदी दुनिया को एक बड़ा सन्देश देना चाहते है और चीन को बुरी मौत मारने की पूरी मंशा है full-width