चीनी सेना ने कोडारी में नेपालियों पीटकर भगाया, गाँव पर कब्ज़ा कर बाउंड्री आगे बढ़ा दी



तिब्बत पर पहले से ही चीन ने कब्ज़ा किया हुआ है और उसे अपना राज्य घोषित किया हुआ है, तिब्बत के साथ नेपाल की पूरी सीमा लगती है और अब चीन ने नेपालियों को भी मारना शुरू कर दिया है

नेपाल के बुरे दिन आ चुके है, एक तरफ नेपाल ने भारत से भी ख़राब सम्बन्ध कर लिए है दूसरी तरफ जिस चीन से पैसा खाकर नेपाल खुश था उस चीन ने भी नेपाल को असली रंग दिखाना शुरू कर दिया है

नेपाल के कई गाँव पर चीन अब कब्ज़ा कर चूका है और बाउंड्री को आगे बढ़ा चूका है, नेपाली गाँव पर कब्ज़ा करने के बाद चीन उन्हें अपने तिब्बत राज्य का हिस्सा घोषित कर देता है

जानकारी नेपाली सरकार तक भी पहुंची है पर कई गाँव पर कब्जे के बाद भी नेपाल की वामपंथी सरकार पूरी तरह चुप है

नेपाल के एक गाँव रुई पर पहले ही चीन ने कब्ज़ा कर लिया, अब इसके बाद जानकारी सामने आई है की कोडारी नाम के एक और गाँव पर चीन ने कब्ज़ा कर लिया और यहाँ जितने नेपाली सदियों से रह रहे थे उन्हें मार भगाया



सिर्फ इतना ही नहीं, नेपाल के कई जिलों में चीन ने 36 हेक्टेयर से भी ज्यादा जमीन पर अब कब्ज़ा कर उसे अपने में शामिल कर लिया है और यहाँ से नेपालियों को मारकर भगाया जा चूका है
बता दें की नेपाल को चीन ने काफी सारा लोन दिया है, नेपाल में वामपंथी सरकार है और पैसा खाकर वामपंथी सरकार नेपाली जमीन पर हो रहे कब्जे पर भी चुप है, जबकि नेपाली लोग चीनियों से आये दिन मार खा रहे है, अपने ही गाँव को छोड़कर जाने पर नेपाली मजबूर हो चुके है

जानकर मान रहे है की तिब्बत के बाद अब नेपाल को भी चीन निगल सकता है और इस काम में नेपाली वामपंथी भी चीन की मदद कर रहे है full-width