"शक्तिमान" घोड़े पर चिल्लाने वाले सभी कुकुरमुत्ते केरल की हथिनी पर मौन, जिसे मजहबी उन्मादियों ने बम से मार दिया



मीडिया आपको इस खबर पर गोल मोल कर रही है, हम आपको कुछ तथ्य पहले बता देते है

हथिनी को पटाखे से नहीं बल्कि बम बनाने वाले विस्फोटक से मारा गया, इस घटना को उन्मादियों ने केरल के मलाप्पुरम में अंजाम दिया, केरल का ये वो इलाका है जहाँ पर मजहबी उन्मादी सबसे ज्यादा सक्रीय है और ISIS में सबसे ज्यादा आतंकवादी भी इसी इलाके से गए थे 

उन्मादियों ने हथिनी को भ्रमित करने के लिए एक पाइन एप्पल के अंदर विस्फोटक भरा और उसकी तरफ कर दिया, हथिनी ने सोचा की ये पाइन एप्पल है और वो उसे खा गयी और ब्लास्ट हुआ और उन्मादियों ने हथिनी को मौत के घाट उतार दिया 

गाय के अलावा हाथी को भी हिन्दू धर्म में बड़ा पवित्र माना जाता है और इसी कारण उन्मादियों ने इस हथिनी को निशाना बनाया, ये हथिनी गर्भवती भी थी 

हथिनी मर गयी और उसके कोख में पल रहा उसका बच्चा भी मर गया, हथिनी कुछ ही समय पहले गर्भवती हुई थी 


इस घटना पर सभी तरह के सेक्युलर कुकुरमुत्ते चुप है, अभी कोई एनिमल लवर भी सामने नहीं आ रहा, न ही पर्यावरण प्रेमी ही दिखाई दे रहे है 

आपको याद होगा उत्तराखंड में शक्तिमान नाम के एक घोड़े की टांग टूट गयी थी, कुकुरमुत्तों ने उसपर काफी शोर मचाया था, पर वो तमाम तरह के कुकुरमुत्ते केरल की हथिनी और उसके बच्चे पर चुप है क्यूंकि केरल में ये घटना उन्मादियों द्वारा की गयी है और केरल में  वामपंथी सरकार है इसी कारण एनिमल लवर, पर्यावरण प्रेमी सब तरह के कुकुरमुत्ते गायब है full-width