मारे गए चीनियों का आंकडा 160 पार, 250 तक जा सकता है आंकड़ा : रिपोर्ट्स



चीन की वो स्तिथि हुई है की चीन अपने ही सैनिको का न ही नाम बता पा रहा है और न ही कोई आंकड़ा दे पा रहा है और ऐसा सिर्फ इसलिए क्यूंकि चीन की सेना का बहुत बुरा हश्र हुआ है

अगर चीन आधिकारिक रूप से आंकड़े बता देगा तो पूरी दुनिया में उसकी सेना की पोल खुल जाएगी, और ताइवान की बात सच साबित हो जाएगी, ताइवान लम्बे समय से कहता आ रहा है की चीन की सेना सिर्फ कागज़ की शेर है, ये सिर्फ दिखाने के लिए है लड़ने के लिए नहीं 

चीन बस कागज़ पर ही दिखा सकता है की उसके पास इतने सैनिक है, इतने हथियार है, पर असल में उसकी सिर्फ दिखाने के लिए है, चीन की सेना के पास लड़ने का कोई अनुभव नहीं है और ये बात लद्दाख में साबित हो गयी 

भारतीय सेना ने 43 से ज्यादा चीनियों के मरने का आंकड़ा कुछ दिनों पहले दिया था, साथ ही ये बताया था की बहुत सारे चीनी घायल है, इसके बाद चीन की सोशल मीडिया से ही 63 का आंकड़ा सामने आया 

फिर ये जानकारी भी सामने आई की 112 तक चीनी सैनिक मारे गए है और ये आंकड़ा बढ़ता जा रहा है, असल में जो चीनी घायल थे वो भी मर रहे है और इसी कारण आंकड़ा बढ़ रहा है 

चीन और भारत की सेना की जब भिडंत हुई थी तब चीनी सैनिको की संख्या 2500 थी और भारतीय सैनिको की संख्या 500 

अब जो नया आंकड़ा सामने आ रहा है उसके अनुसार 160 चीनी अबतक मर चुके है और ये आंकड़ा भी अभी और बढ़ सकता है क्यूंकि अभी भी बहुत से चीनी गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती है, ये आंकड़ा 250 को भी पार कर सकता है 

कल देर रात तक आंकड़ा 128 का था 

पर अब ये आंकड़ा 160 को पार कर गया है
ये आंकड़ा 200 या फिर 250 को भी पार कर सकता है, घायल चीनी सैनिको की संख्या बहुत बड़ी है, बिहार रेजिमेंट के सैनिको ने चीनियों पर भीषण पलटवार किया था, चीनी सैनिको ने सपने में भी नहीं सोचा था की भारतीय सैनिक इस तरह से पलटवार करेंगे और संख्या  में ज्यादा होने के बाबजूद चीनी सैनिको की लाशें बिछ गयी full-width