ईंट का जवाब पत्थर : लद्दाख में हेलीकाप्टर उड़ा रही थी चीनी सेना, परमाणु सक्षम सुखोई से मार भगाया गया



दुनिया भर में चीन अपने वायरस के कारण बदनाम हो चूका है और दुनिया भर के देश चीन को लेकर आक्रोशित है, चीन के हाथों से अब व्यापार निकलने वाला है और दुनिया के देशों के लिए भारत पहली पसंद बनकर उभर रहा है 

इस से परेशान होकर चीन ने भारतीय सीमाओं की तरह अपनी सैन्य गतिविधियाँ बढ़ा दी है, बीते दिनों ही सिक्किम के नाकु ला सेक्टर में 150 के करीब चीनी सैनिक भारतीय सीमा की ओर आ गए, इस से पहले की वो भारतीय जमीन पर अपने पैर रखते, भारतीय सेना भी वहां पहुँच गयी 

दोनों सेनाओं में संघर्ष हुआ और 4 भारतीय सैनिक इसमें घायल हो गए, जवाब में 13 चीनी सैनिको को उस से भी बुरी तरह घायल कर दिया गया, सभी 150 चीनी अपने इलाके की ओर भाग खड़े हुए 

अब इसी तरह की हरकत चीन ने लद्दाख सीमा पर भी की पर यहाँ चीन ने पैदल सैनिक नहीं बल्कि वायु सेना के 2 हेलीकाप्टर को लगाया

लद्दाख सीमा पर चीन ने अपने 2 सैन्य हेलीकाप्टर उड़ाने शुरू कर दिया और चीन के हेलीकाप्टर भारतीय सीमा की ओर आने लगे, इस से पहले की चीन भारतीय सीमा का उल्लंघन करता, भारतीय राडार ने चीनी हेलिकोप्तेर्स को पकड़ लिया 

इसके बाद लद्दाख में मौजूद वायु सेना के बेस से परमाणु हथियार में सक्षम सुखोई जेट्स को रवाना किया गया, सुखोई की आवाज सुनते ही चीनी हेलीकाप्टर तेजी से चीनी सीमा के अन्दर भाग खड़े हुए और 1 ही मिनट बाद वो गायब हो गए, भारतीय जेट्स चीनी सीमा पर काफी देर तक गरज दिखाते रहे


चीन घुसबैठ की कोशिश कर रहा है पर भारत की सरकार ने भी मन बनाया हुआ है, की चीन को ईंट का जवाब पत्थर से दिया जायेगा, चाहे वो डोकलाम हो, नाकु ला हो या फिर लद्दाख full-width