प्रियंका वाड्रा की भेजी बसों की लिस्ट निकल रही फर्जी, कई बसें है ही नहीं, कईयों का अतापता नहीं



घपला, भ्रष्टाचार कांग्रेस के पर्यायवाची शब्द है और एक बार फिर ये प्रमाणित हो रहा है, झूठ और कपट पर ही कांग्रेस की पूरी राजनीती आधारित है और प्रियंका वाड्रा ने एक बार फिर इसका पूरा परिचय दिया 

दरअसल प्रियंका वाड्रा ने योगी सरकार को कहा था की - मैं तुम्हे 1000 बसें देती हूँ, मजदूरों को उसमे बिठाओ, प्रियंका वाड्रा ने वाहवाही लूटने के मकसद से ये बयान दिया था 

पर योगी सरकार भी कम नहीं है और कल ही प्रियंका वाड्रा से 1000 बसों की लिस्ट, ड्राईवर और को ड्राईवर सहित मांग ली गयी

इसके बाद कांग्रेस की किरकिरी होने लगी तो आनन् फानन में कांग्रेस ने एक लिस्ट बनाकर उत्तर प्रदेश सरकार को दे दी और कहा की ये हमारी 1000 बसों की लिस्ट है 

अब इस लिस्ट में बड़े पैमाने पर घपले नजर आ रहे है, इनमे से अधिकतर बस नंबर वेरीफाई ही नहीं हो रहे, कई सारे नंबर तो स्कूटर के निकले, कई सारे मोटर साइकिल के तो कई सारे 3 पहिया वहां के 

बड़े पैमाने पर लिस्ट फर्जी साबित हो रही है 

बसों की लिस्ट बताकर जो भेजी वो  टाटा 407, टाटा 709, Chevrolet Beat, बजाज 3 पहिया ऑटो रिक्शा जैसे वाहनों के नंबर निकल रहे है, कई सारे नंबर स्कूटर के निकले है और बहुत सारे तो वेरीफाई ही नहीं हुए है, वो सब फर्जी नंबर है 

कांग्रेस ने एक बार फिर घोटाला कर दिया है, और ये घोटाला मजदूरों की मदद के नाम पर किया गया है, ऐसे समय में जब देश तकलीफ से जूझ रहा है तब कांग्रेस झूठ और बेशर्मी की राजनीती कर रही है