राहुल गाँधी की टीम के 'अर्थशास्त्री' बोले - चीन से कंपनियों को लाने की कोई जरुरत नहीं, कोई फायदा ही नहीं



नोबेल नाम के विदेशी पुरुष्कार जीत चुके और राहुल गद्न्ही की टीम के कथित इकोनॉमिस्ट अभिजित बनर्जी जिन्होंने कुछ दिनों पहले राहुल गाँधी के साथ काम किया था वो चीन से भारत आ रही कंपनियों को लाने के पक्ष में नहीं है 

पहले तो आपको बता दें की दुनिया भर की तमाम कम्पनियाँ चीन में काम करती है, इन्होने चीन में बड़े बड़े फैक्ट्री लगाये है, जिस से ये मैन्युफैक्चरिंग करती है साथ ही इस से चीनियों को बड़े पैमाने पर रोजगार भी मिलता है 

इन्ही कंपनियों के कारण दुनिया में चीन मैन्युफैक्चरिंग का हब बना हुआ है और उसकी इकॉनमी भी अमेरिका के टक्कर की हो चुकी है 

पर कोरोना वायरस के आतंक के बाद दुनिया भर में चीन को लेकर काफी गुस्सा है और चीन से कम्पनियाँ भारत शिफ्ट होने को लेकर आतुर है, भारत सरकार भी इस मौके का फायदा उठाना चाहती है और मोदी सरकार ने इसे लेकर कई तरह के काम भी शुरू किये है 

पर राहुल गाँधी की टीम के इकोनॉमिस्ट अब कह रहे है की चीन से भारत कम्पनियाँ आयेंगी तो इस से कोई फायदा है ही नहीं, चीन से इन कंपनियों को भारत लाने की जरुरत ही नहीं 

अभिजित बनर्जी का कहना है की - मुझे नहीं लगता की चीन से कम्पनियाँ भारत आ जाएँगी तो भारत को कोई फायदा होगा, इन कंपनियों को भारत लाने के लिए सरकार कई तरह के काम कर रही है जो की बर्बादी है, इन कंपनियों को भारत लाने की जरुरत ही नहीं है 

बता दें की चीन भी इस बात को लेकर काफी परेशान है की कम्पनियाँ भारत से संपर्क साध रही है इसी कारण चीन सीमा पर हरकतें भी शुरू कर चूका है, वहीँ चीन के साथ अब इस चीज से राहुल गाँधी की कोर टीम भी परेशान होने लगी है full-width