भारत में भी दिया गया आदेश, कोरोना मृतकों का जलाकर ही होगा अंतिम संस्कार, दफ़न नहीं चाहे किसी भी धर्म का हो



वो आदेश अब भारत में भी दे दिया गया जो की चीन में वहां की सरकार ने दिया था, कोरोना वायरस से मरने वाले मृतक का अंतिम संस्कार शव को जलाकर ही होगा, चाहे वो किसी भी धर्म का हो, शव को दफ़न करके अंतिम संस्कार की इज़ाज़त नहीं होगी 

ये आदेश मुंबई में जारी किया गया है, मुंबई नगर निगम जिसे BMC भी कहते है उसने आदेश जारी कर कहा है की - कोरोना से अगर किसी की मृत्यु हुई तो उसका अंतिम संस्कार सिर्फ जलाकर होगा चाहे वो किसी भी धर्म का हो, दफ़न करके अंतिम संस्कार नहीं करने दिया जायेगा 

आपको बता दें की इसके पीछे कारण ये है की जलाने से शव के अन्दर मौजूद वायरस नष्ट हो जाते है, वहीँ अगर शव को दफ़न किया जाता है तो वायरस नष्ट नहीं होता और वो वायरस जमीन में मिल जाता है, जमीन में भी कई पोषक तत्व होते है और वायरस फलता फूलता रहता है जो की खतरनाक है 


इसी तरह का आदेश चीनी सरकार ने दिया था, वहां कोरोना से मरने वाले सभी लोगो के शव का अंतिम संस्कार जलाकर ही किया गया है

BMC के आदेश में ये भी कहा गया है की अंतिम संस्कार में सिर्फ 5 तक लोग शामिल हो सकेंगे 

बता दें की इस फैसले का कोई अन्य विरोध करे न करे पर भारत में मजहबी उन्मादी इस फैसले का विरोध जरुर करेंगे क्यूंकि मजहबी उन्मादियों के लिए विज्ञान, देश का भला इत्यादि कुछ मायने नहीं रखता, इन उन्मादियों के लिए सिर्फ उन्माद मायने रखता है