पूर्व गवर्नर अजीज कुरैशी के आतंकवादी बोल, CAA विरोध में हाथ काट देने की दी धमकी



मुरादाबाद के ईदगाह मैदान में CAA के विरोध में चल रहे धरने में पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी बतौर मुख्य वक्ता पहुंचे. यहां उन्होंने प्रदर्शनकारियों को डराते और भड़काते हुए कहा की केंद्र की मोदी सरकार ने सभी प्रदेशों को डिटेंशन सेंटर के लिए जगह मुहैया कराने के आदेश दे दिए हैं.

पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने लोगों को डराते हुए कहा, ''इन्हीं डिटेंशन सेंटर में लोगों को रखा जाना है. वो ऐसे कैम्प बनवाना चाहते हैं जो पूर्व में हिटलर ने बनवाये थे. यहूदियों को बंधक बनाकर रखने के लिए.''

पूर्व राज्यपाल यहीं नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा कि अमित शाह और मोदी सोच रहे होंगे कि मुसलमानों को डरा देंगे. मैं ये कहता हूं मुसलमान केवल अल्लाह से डरता है. उन्होंने कहा, ''आप चाहते हैं कि मुसलमान आपको कोई सबूत दें, तो ये आपके बाप-दादा के बस की बात नहीं और मैं कहता हूं कि हिंदुस्तान में अगर कोई मुसलमानों से सबूत मांगे तो गला पकड़ लेना उसका. कोई भी ताकत आपसे सबूत नही मांग सकती. आपको बता दें कि अजीज कुरैशी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और मिजोरम के गर्वनर रहे हैं.

अजीज कुरैशी ने कहा, ''मुसलमानों ने ये मुल्क जंगे आजादी के बाद दिया है और ये बताइयेगा अमित शाह और नरेंद्र मोदी को. हम लोग इस्लाम की रूह में सच्चे हैं और देश के वफादार हैं. हमारी गैरत पर कोई हाथ डालेगा तो उसे काटकर फेंक देंगे.

मैं आपको बता दूं, अमित शाह और नरेंद्र मोदी, भाजपा और संघ परिवार, इनका एक ही मकसद है कि हिंदुस्तान को एक हिन्दू मुल्क बना दिया जाए. लेकिन हम लोग उनके इस मंसूबों को कामयाब नहीं होने देंगे. यहां पर बैठे लोगों को डरना नहीं है, बहुत सारे नोटिस मिलेंगे.''