भीम आर्मी ने मजहबी भीड़ को बुलाकर कहा - चलो CAA के खिलाफ प्रदर्शन करे, मजहबी भीड़ ने दलितों के ही वाल्मीकि मंदिर पर कर दिया हमला



अलीगढ में मजहबी भीड़ ने दलितों के ही वाल्मीकि मंदिर पर हमला कर दिया है और मंदिर में काफी तोड़फोड़ की है, मजहबी भीड़ ने मजहबी नारे लगाते हुए मंदिर को घेरकर उसपर पत्थरों से हमला कर दिया 

अलीगढ में CAA के नाम पर मजहबी भीड़ पिछले कई दिनों से प्रदर्शन कर रही है और भीम आर्मी ने भी मजहबी भीड़ का समर्थन किया 

अलीगढ के कोतवाली थाने के तुर्कमान गेट पर दलितों द्वारा चलाये जाने वाला वाल्मीकि मंदिर है, भीम आर्मी ने इसी इलाके में CAA के खिलाफ प्रदर्शन का ऐलान किया और मजहबी भीड़ को कहा की हम मिलकर CAA के खिलाफ प्रदर्शन करते है 

फिर अचानक मजहबी भीड़ ने वाल्मीकि मंदिर को ही अपना निशाना बना दिया और मंदिर को घेरकर उस पर पथराव कर दिया, ये मंदिर दलितों ने ही बनाया था और दलितों द्वारा ही चलाया जा रहा था, मंदिर भी वाल्मीकि जी का था 

बता दें की CAA पाकिस्तान बांग्लादेश अफगानिस्तान के अल्पसंख्यको के लिए लाया गया कानून है. और उन अल्पसंख्यको में भी ज्यादातर दलित ही है, पर भीम आर्मी CAA का विरोध कर रही है 

और अब तो भीम आर्मी ने CAA विरोध में कार्यक्रम का आयोजन करवाया और मजहबी भीड़ ने दलितों के ही मंदिर को तोड़ दिया