सबसे बड़ा अपराधी है चीन, क्रोना वायरस चीन ने ही बनाया, ये अपने आप नहीं बल्कि चीन की करामात


इन दिनों दुनिया में क्रोना वायरस से आतंक मचा हुआ है, हर तरफ इस वायरस का खौफ है, ये मूलतः चीनी वायरस है और दुनिया भर में फ़ैल रहा है, भारत में भी अब इसके मामले सामने आ चुके है 

क्रोना वायरस के पीछे कोई और नहीं बल्कि चीन स्वयं है, क्रोना वायरस अपने आप उत्पन्न नहीं हुआ, बल्कि चीन ने ही क्रोना वायरस बनाया है, इसके पीछे चीनी सरकार और चीनी वैज्ञानिक है 

दरअसल चीन कनाडा के एक तत्व से बायो लोजिकल हथियार बना रहा था, चीन ये हथियार अपने P4 लैब में बना रहा था जो की चीन के वुहान शहर के अन्दर ही है, ये तस्वीर है चीन के उसी लैब की जहाँ चीनी वैज्ञानिक कनाडा से लाये गए एक तत्व से हथियार बना रहे थे 


ये लैब चीन के वुहान शहर के अन्दर ही मौजूद है और इसी जगह पर चीन रिसर्च के नाम पर बायो लोजिकल हथियार बना रहे था, चीन के वैज्ञानिक काफी लम्बे समय से इस लैब में काम कर रहे थे 


चीन की सरकार बड़ी ही साजिश करके कनाडा से एक खास तरह का तत्व लेकर आई थी, और इस तत्व का इस्तेमाल चीन कर रहा था और चीन का मिशन था एक ऐसा बायो लोजिकल हथियार बनाना जिसे वो युद्ध के समय दुसरे किसी देश पर छोड़ सके और वहां की हवा में वायरस ही वायरस फ़ैल जाये और बड़े पैमाने पर लोगो की मौत हो 

चीन के वैज्ञानिक उस वायरस पर कण्ट्रोल करने को लेकर काम कर रहे थे ताकि वो एक ऐसा हथियार बना सके जिस से चीन को खतरा न हो पर जहाँ चीन उस बम को फोड़े खतरा सिर्फ वहीँ के इलाके में हो, पर चीन के वैज्ञानिक थोडा सा चूक गए और वुहान शहर में इसी लैब से एक वायरस फ़ैल गया, अब उसी वायरस को क्रोना वायरस कहा जाता है 

चीन ने स्वयं ही क्रोना वायरस को बनाया है और अब अपराधी चीन एक मासूम की तरह बयानबाजी कर रहा है की हम क्रोना वायरस से लड़ रहे है