दिल्ली की निधि को मोहम्मद इंतज़ार में नजर आया था अच्छा युवक, लाश ही मिली निधि की


दिल्ली के उस्मानपुर में लव-जिहाद का एक मामला सामने आया है। इंतज़ार नाम का युवक निधि नाम की लड़की को प्यार के झांसे में लेकर लिव-इन में रहता है। जब युवती ने शादी का दबाव डाला तो मौत के घाट उतार दिया। बिजनौर के खत्रियान गाँव में रहने वाले इंतज़ार को पुलिस ने उस वक्त गिरफ़्तार किया, जब वो शव को दफन करने की कोशिश कर रहा था।

दरअसल, युवक ने युवती की हत्या दिल्ली में की और उसके बाद दिल्ली से बिजनौर जाने के लिए एक कार किराए पर लेकर निधि के शव को ठिकाने लगाने गाँव चला गया। जिसके बाद स्थानीय लोगों को उस पर शक हुआ, तो इसकी सूचना पुलिस को दी। 

सूचना पर पहुँची यूपी पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर दिल्ली पुलिस को सौंप दिया। दिल्ली पुलिस ने आरोपी से पूतताछ कर पूरे मामले का खुलासा किया। इंतजार ने गुनाह कबूल करते हुए कहा कि शादी का दबाव बनाने के चलते दोनों में बहस हुई थी, जिसके बाद उसने निधि की हत्या की।

मामले पर डिप्टी पुलिस कमिश्नर (पूर्वोत्तर) अतुल ठाकुर ने कहा, “हमने गुरुवार को एक टीम बिजनौर भेजी और आरोपी को शनिवार को दिल्ली लाया गया।” एक पुलिस अधिकारी की मानें तो, पहले इंतज़ार ने दिल्ली में शव को एक नाले में फेंकने की कोशिश की थी, लेकिन गणतंत्र दिवस के कारण सुरक्षा व्यवस्था ज्यादा थी, इसलिए वो इसमें सफल नहीं हुआ।

इंतजार और निधि की दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी। इसके बाद दोनों ने मिलना शुरू किया था। हालाँकि निधि की शादी पहले ही दिल्ली के एक व्यापारी संजय मिश्रा से हो चुकी थी। निधि के दो बच्चे भी हैं, बावजूद इसके उसने जुलाई में अपने पति को छोड़ दिया और इंतज़ार के साथ रहने लगी थी। यही नहीं उसने इस्लाम अपनाते हुए अपना नाम बदलकर इकरा रख लिया था। निधि के छोड़ने के बाद संजय ने पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।