केजरीवाल की जीत के बाद शुरू हुई देश में मुसलमान प्रधानमंत्री बनाने की मांग, हिन्दू प्रधानमंत्री से है अब समस्या



दिल्ली में 11 फ़रवरी को चुनाव के नतीजे आये और जिस तरह की वोटिंग हुई उसे लेकर मजहबी समुदाय के लोग जोश में नजर आये, दिल्ली में सबसे ज्यादा मार्जिन से अमंतुल्लाह खान को जीत मिली है, वहीँ अमंतुल्लाह खान जो की आतंकवादी सरजील इमाम के साथ घूम रहा था

केजरीवाल की जीत के बाद अब मजहबी समुदाय के लोग इस देश में हिन्दू प्रधानमंत्री की जगह मुसलमान प्रधानमंत्री की मांग करते नजर आने लगे है, थोडा सेक्युलर दिखने के लिए वो मुसलमान के साथ साथ इसाई प्रधानमंत्री की बात भी कर रहे है

मजहबी समुदाय के लोग कह रहे है की हमे एक आन्दोलन खड़ा करना होगा ताकि इस देश में मुसलमान या इसाई प्रधानमंत्री बना सके, मजहबी समुदाय के लोग साफ़ कर रहे है की अब उन्हें इस देश में हिन्दू प्रधानमंत्री अच्छा नहीं लगता

मोहम्मद जीशान नामक मजहबी उन्मादी देश में अब मुसलमान प्रधानमंत्री की मांग कर रहा है और इसकी इस मांग को काफी सारे मजहबी समर्थन भी दे रहे है 

साफ़ हो चूका है की जिस तरह अमंतुल्लाह खान को सबसे ज्यादा बड़ी जीत मिली और मुसलमान समुदाय ने एकजुट होकर दिल्ली में वोट किया, अब मजहबी समुदाय के लोग इस से काफी जोश में है और अभी से ही मुसलमान प्रधानमंत्री की मांग शुरू हो चुकी है