दिल्ली - लंगर लगाने वालो का बुरा हुआ हाल, अब चींखकर बता रहे - "मुल्ला हमारे घर जला रहे है"



लंगर लगाकर भाईचारा ही तो निभाना चाहते थे, पर लंगर लगाने वालो के साथ भी बहुत बुरा हो गया

कल दिल्ली के भजनपुरा इलाके में मुस्लिम भीड़ ने कमल शर्मा नाम के एक आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ता की ही दूकान जला दी, शाम को रोते हुए कमल शर्मा ने कहा की मेरी दूकान क्यों जला दी मैंने क्या किया था 

मजहबी उन्मादियों ने सेक्युलर लोगो को भी नहीं छोड़ा और अब लंगर लगाने वाले लोगो का भी बुरा हाल हो चूका है

भजनपुरा इलाके में हिन्दुओ के अलावा सिखों के घरों को भी मजहबी उन्मादियों ने निशाना बनाया, सिख वही लोग है जिन्होंने शाहीन बाग़ इलाके में काफी सारे लंगर लगाये थे, और पंजाब से भी शाहीन बाग़ का समर्थन करने पहुंचे थे 

आपको याद होगा बिंद्रा नाम के एक शख्स ने तो कथित रूप से अपना फ्लैट भी बेच दिया था ताकि वो मुसलमानों के लिए लंगर लगा सके, अब भजनपुरा में क्या हुआ ये देखिये 


ये सिख शख्स बहार आकर चींख कर कह रहा है की हिन्दुओ के अलावा सिखों का भी मुसलमान घर जला रहे है, ये शख्स अब सरकार से सेना लगाने की मांग कर रहा है 

साफ़ होता है की चाहे कमल शर्मा जैसे आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ता हो या लंगर लगाने वाले, मजहबी उन्मादियों ने न सेकुलरों को छोड़ा और न ही लंगर लगाने वालो को