दिल्ली में मुसलमानो ने बनाया रिकॉर्ड - 100% ने बीजेपी के खिलाफ किया वोट, पूरी कौम ने एकजुट होकर दिया वोट



भारतीय जनता पार्टी ने मुसलमान वोटर्स के लिए क्या कुछ नहीं किया, मुस्लिम समुदाय के लिए एक से बढ़कर एक स्कीमें लायी गयी और तो और मुस्लिम औरतों के लिए ट्रिपल तलाक बिल भी लाया गया, बताया जा रहा था की कम से कम मुस्लिम महिलाएं तो बीजेपी को वोट देंगी

पर दिल्ली के विधानसभा चुनावों में फिर एक बार साबित हो गया की मुसलमान बीजेपी को कभी वोट नहीं देने वाले चाहे बीजेपी की सरकारें उनके लिए कितना भी काम करे, कितने भी स्कीम लाये, कितने भी स्कॉलरशिप्स लाये और ट्रिपल तलाक जैसे कितने भी बिल लाये

दिल्ली विधानसभा चुनावों को लेकर अब डाटा सामने आ चुके है, दिल्ली में 61% टोटल वोटिंग हुई है और अलग अलग वर्ग के वोटर्स का जो आंकड़ा आया है वो बहुत कुछ कह रहा है

दिल्ली में 82% मुसलमान वोटर्स ने आम आदमी पार्टी को वोट दिया है, वहीँ 14% मुसलमान वोटर्स ने कांग्रेस को वोट दिया है, और 4% मुसलमान वोटर्स ने अन्य दलों और निर्दलीय उम्मीदवारों को वोट दिया है यानि ये कुल 100% हो गया

यानि इतने स्कीमों, ट्रिपल तलाक बिल, स्कॉलरशिप्स के बाद भी 100% मुसलमानो ने बीजेपी को  हराने के लिए वोट दिया है, एक तरह से पूरी कौम ने ही बीजेपी को हराने के मकसद से वोट दिया है



मुस्लिम महिलाओं तक ने बीजेपी को वोट नहीं दिया, बीजेपी को हराने के लिए समुदाय ने पूरा जोर लगा दिया और आंकड़े इस बात की गवाही दे रहे है 


और नया पुराने