मुसलमान महिला का ऐलान - जिस दिन हिन्दुओ से ज्यादा हुए हिन्दुओ को पकड़ पकड़ के मारेंगे



भारत सरकार ने एक कानून बनाया जिसे CAA के नाम से जाना जाता है, इस कानून से भारत के किसी भी नागरिक का कोई सम्बन्ध नहीं है, कानून सीधा सा ये है की पाकिस्तान बांग्लादेश और अफगानिस्तान जो तीन इस्लामिक देश है वहां पर हिन्दुओ, सिखों आदि पर धर्म के नाम पर अत्याचार होता है, इन प्रताड़ित लोगो को भारत की नागरिकता दी जाएगी 

इस कानून से भारत के किसी भी नागरिक का कुछ लेना देना नहीं है, पर देश में मुस्लिम चरमपंथी इस कानून को लेकर विरोध के नाम पर पिछले काफी दिनों से क्या क्या कर रहे है ये दुनिया देख रही है 

कोई खड़े होकर भारत के टुकड़े टुकड़े करने की प्लानिंग करते हुए कहता है की असम को भारत से काटेंगे, कोई अमित शाह की हत्या की बात करता है 

और अब तो खुलेआम हिन्दुओ के नरसंहार की बातें भी की जा रही है, एक लोकल पत्रकार ने इस कानून को लेकर कुछ मुस्लिम महिलाओं से बात करना चाहा तो मुस्लिम महिला ने हिन्दुओ के नरसंहार के मनसूबे जाहिर कर दिए 

मुसलमान महिला ने खुलेआम कहा की, अभी हम मुसलमान 40 करोड़ है और हिन्दू 70 करोड़, पर कभी न कभी हम मुसलमान हिन्दुओ से ज्यादा हो ही जायेंगे और जिस दिन हम हिन्दुओ से ज्यादा हो जायेंगे उस दिन हिन्दुओ को मारेंगे 


पाकिस्तान बांग्लादेश और अफगानिस्तान में हिन्दुओ और सिखों का लगभग सफाया कर दिया गया, जो बचे है उनकी बेटियों को आज भी आये दिन उठाया जाता है, ऐसे हिन्दुओ सिखों को बचाने के लिए भारत में कानून बना है, तो इसके विरोध में यहाँ की मुसलमान महिला जल्द ही बहुसंख्यक होकर यहाँ के हिन्दुओ को पटक पटक कर मारने का ऐलान कर रही है