केजरीवाल ने अपने पालतू से कहलवाया - शाहीनबाग़ वालो अब हट जाओ वरना बैंड बज जाएगी



दिल्ली के शाहीन बाग़ में इस्लामिक जिहाद का जो नंगा नाच चल रहा है उसे दुनिया देख रही है, यहाँ पर भारत के टुकड़े करने की प्लानिंग चलती है, यहाँ से ऐलान किया जाता है हिन्दुओ को पकड़ पकड़ कर मारने का, यहाँ पर जिन्ना वाली आज़ादी मांगी जाती है 

पहले तो केजरीवाल और उसकी पार्टी इस्लामिक जिहाद का पूरा समर्थन करती रही, क्यूंकि वो मानकर चल रहे थे की हिन्दू तो मुफ्तखोर है, 200 यूनिट बिजली और महिलाओं के फ्री बस के लिए वोट दे ही देगा, तुष्टिकरण तो मुस्लिम वोट बैंक का करो 

पर 20 जनवरी के बाद दिल्ली में राजनितिक हवा बदल सी गयी क्यूंकि शाहीन बाग़ में इस्लामिक जिहाद के नंगे नाच को सबने देखना शुरू कर दिया, विडियो वायरल होने लगे इसके बाद केजरीवाल की स्तिथि ख़राब होने लगी 

आम आदमी पार्टी का नेता अमंतुल्लाह खुद शाहीन बाग़ में जिहाद में भाग ले रहा था, संजय सिंह जो कह रहा था की हमारी पार्टी के लोग लगे हुए है आन्दोलन में और सिसोदिया जो कह रहा था की हम शाहीन बाग़ वालो के साथ है अब केजरीवाल ने अपने स्टैंड को बिलकुल बदल लिया है, पर समस्या ये है की अब शाहीन बाग़ में इस्लामिक जिहाद भस्मासुर का रूप ले चूका है और शाहीन बाग़ वाले मान नहीं रहे 

अब केजरीवाल की स्तिथि ये है की हिन्दू नाराज है और दूसरी तरफ शाहीन बाग़ में जिहाद बढ़ता ही जा रहा है, जिसके कारण दिल्ली में समीकरण ही बदल गए, वहीँ शाहीन बाग़ वाले भी मान नहीं रहे, केजरीवाल को अपनी जमीन खिसकती दिखाई दे रही है और आज उसका प्रमाण भी मिल गया 

सोशल मीडिया पर केजरीवाल का एक पालतू काफी एक्टिव है जिसका नाम है ध्रुव राठी, ये एक बड़ा प्रोपगंडिस्ट है, जो की काफी लम्बे समय से झूठ और प्रपंच का व्यापार चला रहा है, केजरीवाल डायरेक्ट अब शाहीन बाग़ वालो से नहीं कह सकता की तुम लोग अब उठ जाओ क्यूंकि चुनाव में हमारा बैंड बज सकता है तो केजरीवाल अपने पालतू से ये बात अब कहलवा रहा है, जरा देखिये 


केजरीवाल अपने पालतू से कहलवा रहा है की - शाहीन बाग़ अब बैक फायर कर रहा है, शाहीन बाग़ वालो अब उठ जाओ और ये कथित आन्दोलन ख़त्म कर दो, क्यूंकि बीजेपी को इस से फायदा हो रहा है, अगर तुम लोग अभी भी बैठे रहे तो मामला बिगड़ जायेगा और बीजेपी सत्ता में आ जाएगी, तुम लोग अब ये तमाशा ख़त्म कर दो

केजरीवाल ने इस से पहले अपने ट्विटर हैंडल से भी कहा था की अब शाहीन बाग़ वालो को रस्ते खोल देना चाहिए, पर शाहीन बाग़ वाले सुन ही नहीं रहे, तो अब केजरीवाल अपने पालतू लोगो का इस्तेमाल कर शाहीन बाग़ वालो के सामने हाथ जोड़ रहा है