हिन्दुओ, सिखों आदि को नागरिकता देने वाला बिल एकदम गलत है, संविधान विरोधी है : राहुल गाँधी



मोदी सरकार द्वारा लोकसभा में पास करवाए गए नागरिकता संसोधन बिल के विरोध में कांग्रेस पार्टी शुरू से ही लगी हुई है पर अब राहुल गाँधी ने तो इस बिल को संविधान विरोधी भी बता दिया है साथ ही साथ ये भी घोषित कर दिया है की जो इस बिल का समर्थन कर रहे है वो संविधान विरोधी है

दरअसल पाकिस्तान अफगानिस्तान और बांग्लादेश जैसे इस्लामिक देशों में हिन्दुओ, सिखों आदि का बहुत बुरा हाल है, मुस्लिम लोग हिन्दुओ और सिखों पर अत्याचार करते है, बेटियों को अगवा करते है, हिन्दुओ और सिखों का इन मुस्लिम देशों में रहना नर्क से भी बदतर है

मोदी सरकार इन्ही हिन्दुओ सिखों आदि के लिए नागरिकता संसोधन बिल लायी है ताकि इन हिन्दुओ सिखों आदि को भारत की नागरिकता मिल सके और ये एक बेहतर जीवन जी सके 

पर कांग्रेस और उसके तमाम सहयोगी हिन्दुओ और सिखों के खिलाफ इस बिल का विरोध कर रहे है और आज राहुल गाँधी ने इस बिल को संविधान विरोधी घोषित कर दिया 

राहुल गाँधी की पार्टी ने बिल के विरोध में लोकसभा में वोटिंग भी की साथ ही साथ कांग्रेस के कार्यकर्त्ता देश भर में हिन्दुओ, सिखों आदि को नागरिकता देने का विरोध भी कर रहे है और राहुल गाँधी लिखित में इसे संविधान विरोधी भी घोषित कर रहे है