यूपी - मौलवी ने लड़की को उठाया, कईयों के साथ मिलकर किया गैंगरेप फिर होटलों में भी बेचा


5 वक्त के नमाज़ी, दूसरों को इस्लाम, मजहब, कुरआन की शिक्षा देने वाले उत्तर प्रदेश के एक मौलवी का नया कारनामा सामने आया है 

पूरा मामला गोरखपुर का है जहाँ पर 11वी कक्षा में पढने वाली एक लड़की का मौलवी ने साथियों के साथ मिलकर अपहरण किया फिर कईयों के साथ मिलकर उसका गैंगरेप किया 

और इतना ही नहीं गैंग रेप करने के बाद वो होटलों में उस लड़कियों को कईयों के सामने परोसता रहा, लड़की का काफी शोषण किया गया 

जानकारी के मुताबिक खोराबार इलाके की किशोरी के मोहल्ले पास मदरसा (Madarsa) है, जहां वह कक्षा 11 में पढ़ने जाती थी. उसी मदरसे में बिहार के मुजफ्फरनगर निवासी व्यक्ति बतौर मौलवी (Maulvi) पढ़ाता था. छात्रा को देखकर मौलवी की नीयत खराब हो गई. जिसके चलते 20 जुलाई 2019 को मौलवी ने छात्रा का अपहरण कर लिया. मौलवी किशोरी को मुजफ्फरनगर लेकर चला गया. 

पीड़िता के मुताबिक मौलवी ने 4 माह तक उसे मुजफ्फरनगर स्थित अपने घऱ में बंधक बनाकर रखा. इस दौरान उसने पहले कई बार उसकी अस्मत तार-तार की. इतने से भी जब उसका मन नहीं भरा तो अपने दोस्तो के साथ सामूहिक रुप से भी उसके साथ दरिंदगी की. इसके बाद मौलवी सीतामढ़ी में स्थित अपने दोस्त के घर ले गया. वहां मौलवी के दोस्त ने उसके दोस्तों, जान पहचान वालों ने बारी-बारी से उसके साथ रेप किया. पीड़िता के मुताबिक बहुत अधिक दुष्कर्म के कारण उसके शरीर में बिल्कुल ताकत नहीं बची थी, उसे खाने-पीने को नहीं दिया जाता था, बदहवास हालत में पीड़िता मिन्नते मांगती रही वहीं दरिंदे शरीर नोचते रहे.

मौलवी और उसके साथियों का मन जब भर गया तब छात्रा से जबरन वैश्यावृत्ति कराने लगा. पीड़िता के मुताबिक मना करने पर मौलवी उसे पीटता था. इस दौरान उसने किशोरी की बोली लगाकर उसे कई महंगे होटलों में भेजा जहां रातभर दरिंदे उसका शरीर नोचते थे. शरीर से लगातार हैवानियत के चलते छात्रा बीमार पड़ गई.

पीड़िता के मुताबिक कुछ दिन पहले मौलवी ने कहा कि वह उसे लेकर उसके घर गोरखपुर जाएगा. उसने छात्रा को गोरखपुर आ रही जनसेवा एक्सप्रस में ट्रेन में बिठा दिया और टिकट लेने के बहाने भाग गया. आत्यधिक कमजोरी के चलते किशोरी ट्रेन में ही बेहोश हो गई, आरपीएफ जवानों की नजर किशोरी पर पड़ी और उसे उपचार के लिए ले गए. किशोरी ने गोरखपुर स्थित अपने घर पहुंचकर परिजनों को आपबीती बताई. जिसके बाद परिजन उसे लेकर पुलिस के पास पहुंचे.

वहीं इस मामले में विवेचक प्रमचंद्र यादव ने बताया कि छात्रा को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया गया है. पीड़िता के परिजनों ने अपहरण की पहले की रिपोर्ट दर्ज कराई है. अब किशोरी के बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी. मोडिकल रिपोर्ट आने बाद आरोपियों के खिलाफ दुष्कर्म की धाराएं जोड़ी जाएगी. आरोपियों की तलाश में छानबीन कर रहे हैं.