हर कीमत पर करूँगा हिन्दुओ, सिखों, आदि को नागरिकता दिए जाने का विरोध : अखिलेश यादव



केंद्र सरकार आज नागरिकता संसोधन बिल को लोकसभा में पेश करने जा रही है और समाजवादी पार्टी में भी कांग्रेस तथा AIMIM जैसी पार्टियों की तरह ही इस बिल का विरोध करने का फैसला किया है

बिल में जो मुख्य चीज है वो ये की - अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश आधिकारिक तौर पर इस्लामिक देश है और वहां पर अन्य अल्पसंख्यको जैसे की हिन्दू सिख बौद्ध जैन इसाई इत्यादि को धार्मिक तौर पर प्रताड़ित किया जाता है

सभी अल्पसंख्यको को दशको से साफ़ किया जा रहा है और भारत ही इन अल्पसंख्यको के लिए एक ऐसी भूमि है जहाँ पर वो सम्मान के साथ जी सकते है

बिल में इन देशों के हिन्दुओ, सिखों, जैनियों, बुद्धों के साथ साथ ईसाईयों को भी भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है

अब इसी बिल के विरोध का ऐलान अखिलेश यादव ने किया है, उन्होंने आज संसद भवन में कहा की मैं हर कीमत पर इस बिल का विरोध करूँगा, चाहे कुछ भी हो जाये इसका विरोध किया जायेगा

अखिलेश यादव ने एक तरह से सीधा ऐलान किया की वो पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान के हिन्दुओ, सिखों, जैनियों, बुद्धों और ईसाईयों को भारत की नागरिकता देने के प्रस्ताव का हर कीमत पर विरोध करेंगे