सेकुलरिज्म के नाम पर पाकिस्तानी मुस्लिम को ब्रिटेन ने दी थी शरण, अल्लाह हु अकबर बोल मार डाला इसने 2 को



ब्रिटेन और उसकी राजधानी लन्दन को फिर एक बार सेकुलरिज्म का खामियाजा भुगतना पड़ा है, लन्दन के मशहूर लन्दन ब्रिज पर आतंकवादी हमला हुआ है और हमलावर ने 2 को मार डाला है 

हमलावर फर्जी सुसाइड बम जैकेट पहनकर लन्दन ब्रिज पर पहुंचा था और मजहबी नारे लगकर हमले करने लगा था, उसने चाकुओं से लोगों पर हमला किया 

इस से पहले की उसपर काबू पाया जाता उसने 2 लोगो को मार डाला, उसे रोकने आई पुलिस ने उसे गोलियों से भुनकर आतंकवादी हमले को समाप्त किया 

जांच के बाद हमलावर की पहचान भी की गयी और ये हमलावर पाकिस्तानी मूल का उस्मान खान निकला, उस्मान खान ने लन्दन ब्रिज पर अल्लाह हु अकबर के नारे लगाते हुए हमले किये

जांच में ये भी सामने आ रहा है की उस्मान खान पर पहले से भी कई मामले चल रहे है, उस्मान खान वही शख्स निकला जिसने 2012 में लन्दन स्टॉक एक्सचेंज को उड़ाने के मकसद से वहां बम रखा था

उसे गिरफ्तार भी किया गया था पर सेकुलरिज्म का आलम ऐसा की वो जल्द ही जेल से छुट भी गया, ये बात भी सामने आई है की उस्मान खान के पास पाकिस्तान में काफी सारी जमीन है और वो उस जमीन पर आतंकवादी शिविर लगाना चाहता था ताकि उसमे आतंकियों की भर्ती करके भारत और साथ ही साथ गजवा-ए-ब्रिटेन के लिए ब्रिटेन पर भी हमले कर सके 


उस्मान खान मजहबी उन्माद में ऐसा उन्मादी हो गया की फर्जी सुसाइड जैकेट पहनकर लन्दन ब्रिज पर आतंकी हमला करने पहुँच गया, जहाँ उसे पुलिस ने गोली मार दी पर मरने से पहले उसने ब्रिटेन के 2 लोगो को भी मार डाला