POK में भारतीय सेना को घुसाने की प्लानिंग, पूरी दुनिया देगा भारत का, पाक में कंपकपी


दुनिया में कई तरह के अंतर्राष्ट्रीय कानून है, आप किसी भी देश में अपनी सेना को नहीं घुसा सकते, अन्यथा दुसरे देश, संयुक्त राष्ट्र, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् दखल दे सकता है 

जम्मू कश्मीर का एक बड़ा हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे में है, इस हिस्से को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर भी कहा जाता है, ये मूल रूप से जम्मू कश्मीर राज्य का ही हिस्सा है जिसे नेहरू की गलतियों के कारण पाकिस्तान ने कब्जे में ले लिया 

नेहरू के समय से ही POK पाकिस्तान के कब्जे में है, पाकिस्तान ने आतंकी जिहादियों की सेना भेजकर POK पर कब्ज़ा किया था, भारतीय सेना को POK छुड़वाने भेजने की जगह नेहरू इस मामले को लेकर संयुक्त राष्ट्र में चला गया 

नेहरू ने संयुक्त राष्ट्र्र से इस मामले को सुलझाने की अपील की और तभी से इस मामले पर कुछ भी नहीं किया गया है, अब भारत POK पर कब्जे के लिए आज ही अपनी सेना को चढ़ाई के लिए भेजता है तो फिर ये भारत के ही अर्जी का उल्लंघन हो जायेगा 

क्यूंकि नेहरू ने भारत की तरफ से ही संयुक्त राष्ट्र में अर्जी डाली हुई है, अब POK में क़ानूनी रूप से भारतीय सेना को कैसे घुसाया जाये, ताकि संयुक्त राष्ट्र का कानून न टूटे और पाकिस्तान की मदद को कोई सामने न आये 

इसका प्लान सुब्रमण्यम स्वामी ने बताया है, और इसकी चर्चा पाकिस्तानी मीडिया में अब दिन रात हो रही है, इस प्लानिंग को सुनकर ही पाकिस्तानी मीडिया काँप रही है 

सुब्रमण्यम स्वामी ने भारतीय सेना को POK में घुसाने को लेकर एक प्लान बताया है, भारत की वर्तमान सरकार को सबसे पहले संयुक्त राष्ट्र से भारत की तरफ से डाली हुई अर्जी को वापस लेना होगा, ये अर्जी नेहरू ने डाली थी 

भारत संयुक्त राष्ट्र से अर्जी वापस ले ले तो  फिर जम्मू कश्मीर का POK हिस्सा वैसा ही खुला हिस्सा हो जाएगा जैसा की  पहले से था, और फिर खुले हिस्से को जो की जम्मू कश्मीर राज्य का ही हिस्सा है उसपर भारत कण्ट्रोल करने के लिए अपनी सेना को क़ानूनी रूप से भेज सकता है 

ऐसे में क़ानूनी रूप से POK में घुसी भारतीय सेना को सिर्फ पाकिस्तानियों को वहां से मार भागना होगा, संयुक्त राष्ट्र भी दखल नहीं दे सकेगा और न ही क़ानूनी रूप से कोई अन्य देश, और इस तरह भारतीय सेना एक क़ानूनी  युद्ध लड़कर POK को वापस भारत में मिला देगी 
loading...
Loading...



Loading...