फंसा चिदंबरम पर सबसे ज्यादा दर्द हुआ प्रियंका वाड्रा को, डर - कहीं रोबर्ट का भी न लग जाये नंबर



कल 20 अगस्त को दिल्ली हाई कोर्ट ने कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को अग्रिम जमानत देने से इंकार कर दिया, चिदंबरम को लूट के मामले में निचली अदालतों से कई बार अग्रिम जमानत मिली पर दिल्ली हाई कोर्ट ने अग्रिम जमानत की याचिका को रद्द कर दिया 

चिदंबरम ने तुरंत ही सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई पर कल सुप्रीम कोर्ट में चिदंबरम की याचिका पर सुनवाई नहीं हुई 

अब चिदंबरम की याचिका पर आज 21 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है, और चिदंबरम गिरफ़्तारी के डर से फरार है 

लूट के मामलों में फंस रहे है चिदंबरम पर दर्द कांग्रेस नेताओं को हो रहा है, कदाचित तमाम कांग्रेस नेताओं को भय है की चिदंबरम गए तो कईयों को ले डूबेंगे 

चिदंबरम पर जो आंच आई है उसका सबसे ज्यादा असर प्रियंका वाड्रा पर दिखाई दे रहा है, सबसे ज्यादा दर्द प्रियंका वाड्रा ही महसूस कर रही है 

प्रियंका वाड्रा ने चिदंबरम के खिलाफ हो रही कार्यवाही का विरोध किया है और मोदी सरकार पर जमकर निशाना भी साधा है 

प्रियंका वाड्रा ने कहा की - चिदंबरम बहुत ही अच्छे नेता है और वो बहुत ही इमानदार है और खूब देश के लिए काम किया है, पर मोदी सरकार कायर की तरह उनके पीछे पड़ी है, हम उनके साथ खड़े है और हम उनके लिए लड़ेंगे 

चिदंबरम को बिलकुल क्लीन चिट दे दिया प्रियंका वाड्रा ने, वैसे मानकर चला जा रहा है की चिदंबरम के बाद अब रोबर्ट वाड्रा का भी नंबर लग सकता है जिनके खिलाफ लूट के कई सारे मामले है, और प्रियंका वाड्रा इस बात को अच्छे से जानती है की अगला नंबर रोबर्ट का लग सकता है ऐसे में वो चिदंबरम को बचाने के लिए काफी कराह रही है