घुसबैठ असम की सबसे बड़ी समस्या, प्रियंका है रोहिंग्या प्रेमी, हटाओ इसे ब्रांड एम्बेसडर के पद से


घुसबैठ सिर्फ असम की ही नहीं बल्कि पुरे देश भारत की एक बड़ी समस्या है, और घुसबैठियों की समर्थक प्रियंका चोपड़ा को सरकारी पैसा दिया जाना इस देश की जनता से एक बड़ा धोखा है 

घुसबैठ की समस्या से यूँ तो पूरा देश जूझ रहा है पर असम एक ऐसा राज्य है जहाँ पर घुसबैठ की सबसे ज्यादा समस्या है

असम में बांग्लादेशियों के अलावा रोहिंग्यों की भी घुसबैठ है, असम में वर्तमान में बीजेपी की सरकार है पर पहले यहाँ कांग्रेस की सरकार थी और उस सरकार के दौरान असम में घुसबैठ करने वालो की जमकर मदद की गयी 

इसी कारण आज असम में घुसबैठ सबसे बड़ी समस्या है और असम की वर्तमान सरकर ने एक ऐसी शख्स को असम का ब्रांड एम्बेसडर बना रखा है जो की घुसबैठियों की समर्थक है 

प्रियंका चोपड़ा को असम सरकार ने ब्रांड एम्बेसडर बनाया हुआ है और इसके लिए प्रियंका चोपड़ा को करोडो रुपए की फीस दी गयी है, ये पैसे जनता के टैक्स के पैसे से दिए गए है 

असम में बाढ़ हो या कोई अन्य समस्या, प्रियंका चोपड़ा ने असम के लिए कोई काम नहीं किया, बल्कि उल्टा रोहिंग्यों का समर्थन कर प्रियंका चोपड़ा ने असम के खिलाफ अपराध ही किया है 

ऐसे में प्रियंका चोपड़ा को जो खुद घुसबैठियों की एक बड़ी समर्थक है उसे असम जो की घुसबैठ से जूझ रहा है उसका ब्रांड एम्बेसडर बनाया जाना अपने में ही अपराध है जो सरकार पहले से कर चुकी है 

अभी भी देर नहीं हुई है और असम सरकार अपनी गलती को सुधारे और प्रियंका चोपड़ा को असम के ब्रांड एम्बेसडर के पद से तुरंत हटाये, असम और देश में ऐसे बहुत सारे अच्छे लोग है जो ब्रांड एम्बेसडर बनाये जा सकते है और असम की ही बेटी हिमा दास एम्बेसडर बनने के लिए एक योग्य उम्मीदवार है जो देश का नाम दुनिया में रोशन कर रही हैं