उन्नाव रेप पीडिता की गाड़ी को टक्कर मारने वाला ट्रक निकला सपा नेता का, क्या योगी को बदनाम करने की सपाई साजिश !


उत्तर प्रदेश में कहीं भी अपराध हो, घूम फिर कर उसका कनेक्शन समाजवादी पार्टी से जुड़ जाता है, अभी कुछ दिनों पहले उत्तर प्रदेश में सोनभद्र को लेकर काफी हंगामा मचा था और राजनीती हुई थी 

बाद में पता चला की सोनभद्र काण्ड करवाने वाला ग्राम प्रधान सपा का नेता है, योगी सरकार के खिलाफ खूब राजनीती की गयी 

और अब अचानक से उन्नाव की रेप पीडिता की गाड़ी को एक ट्रक ने टक्कर मार दी, उसके बाद भी योगी सरकार के खिलाफ खूब राजनीती हो रही है 

पर अब जांच में ये पता चला है की जिस ट्रक ने उन्नाव रेप पीडिता की गाडी को टक्कर मारी थी वो ट्रक सपा नेता का है 

ये ट्रक समाजवादी पार्टी के नेता नंदू पाल के बड़े भाई देवेन्द्र पाल का है, और एक्सीडेंट के बाद से ही देवेन्द्र पाल के घर पर टाला बंद है, देवेन्द्र पाल की तलाशी चल रही है और वो फरार बताया जा रहा है 

देवेन्द्र पाल के कई ट्रक है और उसका ट्रक का ही धंधा है, फ़िलहाल पुलिस उसे खोज रही है 

अब विधायक तो पहले से जेल में बंद है, और विधायक समेत सबको पता है की पीडिता को आंच आती है तो सीधा आरोप उसी पर लगेगा

और उन्नाव पीडिता के एक्सीडेंट के बाद सारा आरोप विधायक पर ही लगा, और उसके खिलाफ हत्या के मामले में FIR भी दर्ज हो गयी, वहीँ योगी सरकार के खिलाफ राजनीती करने का मौका भी विपक्ष को जमकर मिला 

एक बात तो साफ़ है की योगी सरकार की जितनी बदनामी सपा को उतना फायदा, चाहे सोनभद्र का मामला हो चाहे उन्नाव रेप पीडिता के एक्सीडेंट का मामला, ग्राम प्रधान भी सपा का नेता निकला और जिसका ट्रक है वो भी सपाई निकले