रांची में मुस्लिम समुदाय ने बस रोका, लोगो को जिन्दा जलाने के लिए पेट्रोल छिड़का


झारखण्ड की राजधानी रांची कल 7 जुलाई को गुजरात का गोधरा होते होते रह गयी, मुस्लिम समुदाय की भीड़ ने कल रांची में चोर तबरेज़ के लिए भीड़ बुलाई थी और ये भीड़ तबरेज़ के समर्थन में सडक पर उतरी हुई थी 

इसी दौरान इस भीड़ ने कई जगह दंगा भी किया, रांची के राजेन्द्र चौक के पास मुस्लिम समुदाय की इस भीड़ ने 1 बस को रोक लिया जिसमे बहुत सारे यात्री बैठे हुए थे, भीड़ को लगा की ये सारे यात्री और पूरी बस हिन्दू समुदाय के लोगो से भरी हुई है 

भीड़ ने पहले तो ड्राईवर को पीटा और उसके बाद बस की खिडकियों को तोड़ दिया, उसके बाद बस को आग लगाने के लिए मुस्लिम समुदाय की भीड़ ने उसपर पेट्रोल छिड़क दिया, तभी में से कुछ यात्रियों ने चिल्लाना शुरू कर दिया की वो मुसलमान है 

फिर मुस्लिम समुदाय के लोगो ने उन लोगो को बस से उतारा और अलग कर दिया और फिर बस को आग लगा देने की तैयारी शुरू कर दी 

भास्कर  की खबर के अनुसार ये बस सीआईटी कॉलेज की थी, इस बस में छात्र बैठे हुए थे, और इसी बस में मौजूद एक छात्र ने नाम न बताने की शर्त पर सारी जानकारी दी है, छात्र ने बताता की घटना के दिन 50 छात्र इस बस में बैठकर यात्रा कर रहे थे और हंसी ठिठोली की जा रही थी 

 बस राजेन्द्र चौक के पास पहुंची तो मुस्लिम समुदाय की भीड़ ने उसे रोक दिया और फिर बस के सीसे तोड़ दिए गए, बस के ड्राईवर को रोका गया, और फिर बस पर पेट्रोल फेंका गया, फिर बस के अन्दर कुछ छात्र चिल्लाये की वो मुसलमान है तो उनको अलग कर दिया गया, मुस्लिम समुदाय की भीड़ फिर बस को जलाती की वहां कुछ बुजुर्ग आ गए और उन्होंने बीच बचाव किया 

पुलिस को इस मामले की जानकारी दी गयी तो अब पुलिस मामले की जांच कर रही है, पुलिस का कहना है की उसने 8 नामजद और 200 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है