अलीगढ में भगवद गीता पढने पर मुस्लिम समुदाय ने की 55 साल के शख्स की लिंचिंग


उत्तर प्रदेश के शहर अलीगढ जो की तालों और अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के लिए जाना जाता है वहां से एक बड़ी खबर सामने आ रही है, हालाँकि अधिकांश मीडिया हाउसेस ने इस खबर को दबा देना ही बेहतर समझा है 

अलीगढ में एक 55 साल के शख्स की मुस्लिम समुदाय के लोगो ने लिंचिंग कर दी है, और उसके घर से भगवद गीता भी छीन लिया है 

मामला अलीगढ के शाह्जमल इलाके का है, खबर के अनुसार शाह्जमल इलाके में रहने वाला एक 55 साल का व्यक्ति ड्यूटी से वापस आकर अपने घर में भगवद गीता का पाठ कर रहा था 

इतने में मुस्लिम समुदाय के कई सारे लोग उसके घर पर आ धमके, जिनमे मोहम्मद शमीर, और जाकिर को इस 55 साल के व्यक्ति ने पहचान लिया 

55 साल के शख्स की पीटाई की गयी और उसके घर से धार्मिक ग्रंथों को जिनमे भगवद गीता और रामचरित मानस शामिल थे, उन्हें उठा लिया गया

घायल शख्स ने बताया की वो भगवद गीता और रामचरित मानस के पाठ की तैयारी कर ही रहा था की उसके घर पर हमला किया गया 

पीड़ित शख्स ने ये भी बताया की भीड़ उसे भगवद गीता, रामचरित मानस और अन्य हिन्दू धार्मिक ग्रन्थ न पढने के लिए धमकियाँ भी दे रही थी

इस मामले में पीड़ित शख्स की शिकायत पर मोहम्मद शमीर और जाकिर के साथ साथ अन्य कईयों पर मामला दर्ज किया गया है, पुलिस का कहना है की वो मामले की जांच कर रही है और जल्द ही आरोपियों की धड पकड़ की जाएगी