फ्लॉप और गुमनाम 49 नफरतबाजो ने लिखी चिट्ठी, "जय श्री राम" से लगता है डर


वहां कर्णाटक में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार गिरी और मध्य प्रदेश और राजस्थान की सरकारों पर खतरे के बादल मंडराने लगे 

वहीँ फिर से एक बार इस देश में कुछ फ्लॉप और नफरतबाज जो की खुद को कलाकार, बुद्धिजीवी और न जाने क्या क्या कहते है वो असहिष्णुता का मुद्दा लेकर आ गए 

देश के 49 लोगो ने एक चिट्ठी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम लिखी है, इन लोगो ने चिट्ठी में जय श्री राम को लेकर आपत्ति दर्ज कराइ है 

इन सभी का कहना है की इस देश में जय श्री राम को लेकर खौफ का माहौल बन चूका है और मुसलमानो को टारगेट किया जा रहा है 

इन सभी का कहना है की जय श्री राम से डर लगने लगा है और देश में असुरक्षा और असहिष्णुता बढ़ चुकी है

वामपंथी मीडिया ने इन सभी को फिल्मकार, बुद्धिजीवी और सफल लोग घोषित किया है, पर इन 49 लोगो में से शायद ही किसी के नाम को देश के लोग जानते है चूँकि ये सभी के सभी फ्लॉप और गुमनाम लोग है जो की असहिष्णुता का भौकाल लेकर सामने आये है,

इनकी चिट्ठी देखिये और इनके नामो की लिस्ट देखिये, अधिकतर एकदम फ्लॉप और गुमनाम लोग है जिन्हे बुद्धिजीवी बताया जा रहा है, जबकि बुद्धजीवी भरा इन्होने जीवन में कौन सा कार्य किया है ये नहीं बताया जा रहा 



इस से पहले मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान अवार्ड वापसी गैंग ने होहल्ला मचाया था, अब ये 49 कथित बुद्धजीवी और कथित फिल्मकार सामने आकर जय श्री राम के नारे को लेकर आपत्ति जाता रहे है 

वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें की इन लोगो का प्रोपेगंडा पूरी तरह झूठ पर आधारित है क्यूंकि जय श्री राम न बोलने को लेकर पिटाई के अधिकतर मामले झूठे साबित हुए है, पर झूठे मामलों पर भी ये 49 नफरत बाज चिट्ठी बम लेकर सामने आ गए, जब इस देश में सिखों को दिल्ली में जिन्दा जलाया जा रहा था, कश्मीर से हिन्दुओ को मार कर भगाया जा रहा था तब ये 49 नफरत बाज एकदम मौन थे और आजतक उन मामलों पर मौन ही है