शामली के मदरसे से 4 रोहिंग्या गिरफ्तार, 3 मौलवियों को भी किया गया गिरफ्तार



देश के अन्दर घुसबैठ एक बड़ी समस्या है, और ये घुसबैठ बिना अंदर की मदद के बिलकुल नहीं हो सकती, सेक्युलर सरकारें और मस्जिद मदरसे घुसबैठ को पूरा संरक्षण देते है 

घुसबैठियों को पनाह दिया जाता है और उनके दस्तावेज बनाये जाते है, पुरे देश का ये ही हाल है, योगी सरकार के आने के बाद से उत्तर प्रदेश में कार्यवाहियां हो रही है 

इसी कड़ी में यूपी के मुस्लिम बहुल जिले शामली से 4 रोहिंग्यों को गिरफ्तार किया गया है, इन रोहिंग्यों को जो देश में घुसबैठ करके आये है इन्हे स्थानीय मुस्लिम समुदाय के लोगो ने पनाह दी 

मदरसे से 4 रोहिंग्यों को गिरफ्तार किये जाने की खबर है साथ ही साथ 3  मौलवियों को भी इन्हे पनाह देने के  अपराध में गिरफ्तार किया गया है 

पुलिस की जानकारी के मुताबिक मोहम्मद रिजवान और मोहम्मद फुरकान को मदरसे के अन्दर तथा अली और अब्दुल माजिद को खुशनुमा कॉलोनी से गिरफ्तार किया गया जो मदरसे के पास ही है 

इन लोगो के पास से 2 आधार कार्ड साथ ही 2 बैंक पासबुक और 1 एटीएम कार्ड भी जप्त किया गया है, इन 4 रोहिंग्यों के साथ साथ मदरसे के प्रिंसिपल करी अशरफ और मोहम्मद हफिउल्लाह के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है 

इस से पहले शामली के पड़ोस के जिले बिजनौर के एक मदरसे में  हथियारों का जखीरा मिला था, मदरसों को लेकर पहले भी कई बातें सामने आयी है जिनमे मदरसों में देश के खिलाफ अपराध, आतंकवाद के संरक्षण के मामले भी है