नपने लगा अब आज़म खान, जौहर यूनिवर्सिटी की 140 बीघा जमीन का पट्टा निरस्त


खिलजी की बलात्कारी मानसिकता से लैस और गरीबों का जमीन हड़पने वाले समाजवादी पार्टी नेता और रामपुर से लोस्कभा सांसद आज़म खान को अब योगी सरकार नापने लगी है 

पहले तो आज़म खान की गैर क़ानूनी जौहर यूनिवर्सिटी की जांच की गयी और आज़म खान द्वारा किसानो की जमीनों को हड़पने के मामलों में फिरलिखी गयी 

और अब आज़म खान के खिलाफ कार्यवाही भी शुरू कर दी गयी, आज़म खान ने अपनी प्राइवेट जौहर यूनिवर्सिटी के लिए रामपुर के किसानो की सैंकड़ो बीघा जमीन पर कब्ज़ा किया था 

अब खबर ये है की योगी सरकार ने आज़म खान द्वारा कब्जाई 140 बीघा जमीन के पट्ठे को निरस्त कर दिया है, रेजिस्ट्री को रद्द कर दिया है 

इस जमीन की कीमत अरबों रुपए में है, समाजवादी पार्टी की जब उत्तर प्रदेश में सत्ता थी तब आज़म खान को ये जमीन लीज पर दे दी गयी थी, अब योगी सरकार ने इस लीज को रद्द कर दिया है 

यानि अब 140 बीघे जमीन पर आज़म खान का कब्ज़ा नहीं रहेगा, आज़म खान के कब्जे से इस जमीन को छुटा लिया गया है 



आपको बता दें की जमीन लूट के मामले में अबतक आज़म खान के खिलाफ 27 FIR दर्ज कर ली गयी है और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने आज़म खान को भूमाफिया की लिस्ट में भी डाल दिया है, अजमा खान पर कार्यवाही अब शुरू हो चुकी है और आने वाले समय में आज़म खान को गिरफ्तार कर लिया जाये तो उसमे भी कोई आश्चर्य की बात नहीं होगी