लखनऊ - लिफ्ट में 10 साल की बच्ची को मुस्लिम समुदाय के व्यक्ति ने दबोचा, दरिंदा किया गया गिरफ्तार


एक के बाद एक बच्चियों का मजहबी उन्मादी शिकार कर रहे है, अलग अलग शहरों के नाम बस बदलते है पर घटनाएं लगभग एक जैसी, छोटी छोटी बच्चियां अब ज्यादा असुरक्षित है चूँकि उन्मादी उनपर आसानी से काबू पा लेते है 

नया मामला अब लखनऊ के गोमती नगर एक्सटेंशन से सामने आया है जहाँ पर एक 10 साल की बच्ची को मुस्लिम समुदाय के एक व्यक्ति ने अकेले पाकर दबोचा, उनकी मंशा रेप की थी 

बच्ची किसी तरह बच गयी और उसने अपने घर वालो को सारी बात बताई जिसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा और मैनुद्दीन अंसारी नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया 

लिफ्ट में CCTV कैमरा होता है, मैनुद्दीन अंसारी ने बच्ची को अकेला देखते ही बिना डरे उसे दबोच लिया, और सारी घटना CCTV में रिकॉर्ड हो गयी, जिसकी जांच के बाद मैनुद्दीन को गिरफ्तार किया गया 

गोमती नगर एक्सटेंशन के एक सोसाइटी में रहने वाले एक सरकारी अफसर की 10 साल की बेटी शाम को 5 बजे कोचिंग से वापस लौट रही थी उसे चौथी मंजिल पर जाना था, इसी दौरान सोसाइटी में काम करने वाला एक ठेकेदार का ड्राईवर लिफ्ट में आ गया

लिफ्ट में बच्ची को अकेला पाकर मैनुद्दीन ने उसे दबोच लिया, मजहबी उन्माद में पगलाया हुआ ये दरिंदा इतना उन्मादी हो गया था की उसे न CCTV की फिकर हुई और न ही उसने देखा की वो कहाँ है, लिफ्ट थोड़ी देर बाद चौथे मंजिले पर खुल गयी तो मैनुद्दीन से बच्ची खुद को छुड़ाकर अपने घर भाग गयी और फिर मामला पुलिस तक पहुंचा 

मैनुद्दीन अंसारी ने पहले तो खुद को पाक साफ़ बताया पर दरिन्दे के खिलाफ CCTV का सबूत था जिसके बाद उसकी बोलती बंद हो गयी, और उसे गिरफ्तार कर लिया