इस्लाम शांति का धर्म तो आपस में ही क्यों मार काट मचाते है मुस्लिम देश : अश्विनी उपाध्याय



दुनिया में सबसे अधिक अशांति और हिंसा कहाँ पर हो रही है - अगर वर्तमान की भी बात करेंगे तो सबसे ज्यादा हिंसा और अशांति मुस्लिम देशों में ही मची हुई है 

चाहे वो इराक हो, सोमालिया हो, एगिप्ट हो, सीरिया हो, यमन हो, अफगानिस्तान हो, पाकिस्तान हो, दुनिया के सबसे अशांत और हिंसा वाले इलाके मुस्लिम देश ही है 

और कहा जाता है की इस्लाम शांति और भाईचारा सिखाता है, वकील अश्विनी उपाध्याय ने सेकुलरों की कही इसी बात पर एक सवाल उठाया है, जिसका शायद ही किसी सेक्युलर के पास कोई जवाब हो 

अश्विनी उपाध्याय ने कहा की - सबसे ज्यादा हिंसा तो मुस्लिम देशों में होती है, शिया और सुन्नी एक दूसरे का गला काट रहे है, ईरान और सऊदी में ये ही लड़ाई है की एक शिया है और दूसरा सुन्नी 

ये सभी एक ही कुरआन पढ़ते है, अगर कुरआन शांति और भाईचारा सिखाता है, तो मुस्लिम देशों में शांति और भाईचारा क्यों नहीं है 

ISIS भी एक सुन्नी संगठन था जिसने सीरिया और इराक में शियाओं का भी बराबर कत्लेआम किया, शिया और सुन्नी तो 1 ही कुरआन पढ़ते है, एक ही शख्स मोहम्मद को पैगम्बर कहते है, फिर ये लोग आपस में शांति और भाईचारा से क्यों नहीं रह रहे 

सबसे ज्यादा हिंसा और तनाव भी मुस्लिम देशों में है, सऊदी यमन के बीच भी संगर्ष है, जबकि दोनों 100% मुस्लिम देश है, 100% इस्लाम आने के बाद भी कोई शांति नहीं है 

इन तर्कों से साफ़ होता है की देश के सेक्युलर हिन्दुओ को गुमराह करने के मकसद से बड़े पैमाने पर झूठ फैलाते है और कहते है की जिहादी तत्व शांति और भाईचारा सिखाते है 

Loading...


Loading...