"मैंने सबकुछ तालिब हुसैन के कहने पर किया, पैसे के लिए किया, मैं असल पिता नहीं हूँ" :



कठुवा केस में जिस तरह भारतीय मीडिया पहले चिल्ला रही  थी, बॉलीवुड के लोग, सोशल मीडिया पर सेक्युलर एक्टिव थे, अब ये लोग इस मामले पर 1 भी बात करना नहीं चाहते, इन लोगों के सारे झूठ एक के बाद एक जो सामने आ रहे है 

मामला अब अदालत में है, और अदालत में मीडिया के एक एक झूठ का पर्दाफाश हो रहा है, अदालत में मीडिया के स्क्रिप्ट नहीं चला करते, कठुवा मामले में मीडिया ने 1 शख्स को बच्ची का सगा बाप बताया था, और उस से बड़े पैमाने पर काम करवाए गए थे, अब देखिये ये शख्स अदालत के अंदर क्या कह रहा है 


इसने कुबूल किया की मैं बच्ची का असल पिता नहीं हूँ, और मैंने जितने भी ड्रामे किये, पोस्टर पकड़कर मार्च किया, मीडिया में बयान दिए, वो सबकुछ जम्मू के नेता तालिब हुसैन के कहने पर किया 

इस शख्स ने बताया की इसने जो भी ड्रामे किये वो पैसे के लिए  किये, इसे पैसे देने के बदले ड्रामे करने के लिए कहा गया था, और इसने पैसे के लिए खुद को बच्ची का सगा पिता बताया, और बयान भी दिए 

आपको बताते है ये तालिब हुसैन कौन है - असल में ये हुर्रियत का कट्टरपंथी है, जो की JNU की शेहला रशीद का साथी है 

शेहला रशीद का साथी तालिब हुसैन 
तालिब हुसैन शेहला रशीद तथा दीपिका राजावत का साथी है और हुर्रियत का कश्मीर में नेता भी है, पर अपनी गतिविधियां जम्मू से चलाता है 

मीडिया जिस शख्स को बच्ची का अब्बू बनाकर  पेश कर रही थी, अब उसने अदालत में जो जो बताया है उसने मीडिया के दरिंदे रूप को उजागर कर दिए है, अब इस मामले से भारतीय मीडिया दूर भाग रही है, कठुवा मामले पर मीडिया 1 शब्द भी नहीं बोलना  चाहती, मीडिया चाहती है लोग भी इस मामले को भूल जाये 

अभी मामले में और बड़े खुलासे होने बाकी  है, जैसे जैसे अदालत की सुनवाई होगी वैसे वैसे मीडिया के तमाम झूठ सामने आएंगे 

Loading...


Loading...