ऐसे खुश हो रहे हैं सोनिया और राहुल जैसे अमेरिका के राष्ट्रपति बन गए हों मोहम्मद अहमद पटेल !


कल तमाम तरह के शाम दाम दंड भेद का इस्तेमाल करके कांग्रेसी सांसद मोहम्मद अहमद पटेल राज्य सभा सीट जीत ही गए, अहमद पटेल कांग्रेस के वोट से नहीं जीते, वे 1 JDU, 1 NCP और 1 BJP विधायक के वोटों से जीते हैं इसके बावजूद भी कांग्रेसी ऐसे खुश हो रहे हैं जैसे कि मोहम्मद अहमद पटेल अमेरिका के राष्ट्रपति बन गए हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अहमद पटेल ने राज्य सभा चुनाव जीतने एक लिए पूरी ताकत लगा दी, वैसे भी वे कांग्रेस के सबसे ताकतवर नेता मानें जाते हैं और सोनिया गाँधी को सलाह वही देते हैं, इतने बड़े नेता होने के बावजूद भी उन्हें अपने 44 विधायकों को होटल में कैद करना पड़ा, इसके बावजूद भी उनमें से तीन ने उन्हें वोट नहीं दिया. 44 में से सिर्फ 41 विधायकों ने उन्हें वोट नहीं दिया. 

अगर 1 JDU, 1 NCP और 1 BJP विधायकों ने उन्हें वोट नहीं दिया होता और बीजेपी को गए 2 वोट रद्द नहीं होते तो अहमद पटेल 100 फ़ीसदी चुनाव हार जाते लेकिन इतना सब कुछ होते हुए भी कांग्रेस इसे बहुत बड़ी जीत मान रहे हैं और जश्न में डूब गए हैं. कांग्रेसी इसलिए जश्न मना रहे हैं क्योंकि बहुत दिनों के बाद उन्हें जीत मिली है वरना अब तक तो उन्हें हार ही हार मिल रही थी

अहमद पटेल को कुल 44 वोट मिले जिसमें से 41 कांग्रेस, 1 JDU, 1 NCP और 1 BJP का वोट शामिल था. मतलब अगर 1 JDU, 1 NCP और 1 BJP वोट उन्हें नहीं मिलता तो वे चुनाव हार जाते, सोशल मीडिया पर यह भी खबर चल रही है कि कांग्रेस ने इन विधायकों को 25-25 करोड़ रुपये में खरीदा है लेकिन हम सच्चाई का दावा नहीं कर सकते.

वैसे गौर करने वाली चीज ये है की 2012 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के पास 60 विधायक थे 
1 राज्यसभा सीट जीतने के लिए 45 विधायक चाहिए थे, पर कांग्रेस केवल 42 ही वोट पा सकी, ये है कांग्रेस की मजबूती !