हिन्दुओ की संख्या कम हुई तो भारत, संविधान, झंडा, इतिहास सबकुछ मिटा दिया जायेगा : राकेश सिन्हा



हिन्दुओ की संख्या कम हुई तो भारत, संविधान, झंडा, इतिहास सबकुछ मिटा दिया जायेगा 
राकेश सिन्हा का ये बयान भले ही कड़वा हो पर ये हकीकत के बेहद करीब है 
सेक्युलर तत्व भले ही इसका विरोध करे पर ये हकीकत है, और ये बात हम सिर्फ 2 मिनट में साबित भी कर सकते है 

राकेश सिन्हा ने आज कहा की, हिन्दुओ की संख्या अगर 60% से कम हुई तो
भारत का झंडा, राष्ट्रगान, संविधान, इतिहास, धरोहर सबकुछ मिटा दिया जायेगा, देखिये राकेश सिन्हा का किया हुआ ट्वीट 


राकेश सिन्हा का साफ़ कहना है की 
भारत, संविधान, भारत का इतिहास, संस्कृति तभी तक है जबतक हिन्दू संख्या में 60% से ज्यादा है 
हिन्दू 60% से कम हुआ तो सबकुछ मिटा दिया जायेगा 

बता दें की आज का भारत तो असली भारत का एक छोटा सा ही हिस्सा है 
अभी 71 साल पहले तक पाकिस्तान और बांग्लादेश भी, भारत ही हुआ करते थे, लाहौर भारत में था, कराची, ढाका सब भारत में ही था 

पर आज इन इलाकों से भारत शब्द तक हटा दिया गया, मिटा दिया गया 
क्यूंकि यहाँ मुस्लिम बहुसंख्यक हो गए, फिर भारत और भारतीय संस्कृति लुप्त कर दी गयी, और यही हाल कश्मीर का भी है, वहां भी हिन्दू संस्कृति गायब है, नहीं होती वहां अब जन्माष्टमी, न राम नवमी, न हिन्दू कार्यक्रम होते है, सबकुछ मिटा दिया गया क्यूंकि हिन्दू नहीं रहे 

 राकेश सिन्हा की बात भले कड़वी हो पर ये सच है 
भारत तभी तक है, भारतीय संस्कृति तभी तक है जबतक हिन्दू मजबूत है, संख्या में अधिक है 
अन्यथा  को लुप्त होने में जरा भी समय नहीं लगेगा, पाकिस्तान और बांग्लादेश भारत ही थे, वहां से भारत अब लुप्त हो ही चूका है 

Loading...


Loading...