सरकार को लूटना चाहता था असलम, अनिल ने इंकार कर दिया तो निर्ममता से कर दी अनिल की हत्या !


फर्जी शौचालय बनाने की आड़ में कर दी गयी हत्या, पकड़े गए 3 आरोपी। इलाहबाद पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए अनिल मिश्रा के मर्डर आरोपियों को गिरफ्तार किया। बता दें अनिल का मर्डर सरकारी फंड से शौचालय बनवाने के विवाद को लेकर किया गया था। 

दरअसल, मृतक के गांव के ही असलम नामक युवक ने एक बार सरकारी फंड से शौचालय बनवाने पर भी दुबारा दूसरे नाम से एक अन्य शौचालय मंजूर किए जाने की मांग कर रहा था।

जिस पर अनिल ने सहमती नहीं दी, अनिल ने फर्जी तरीके से शौचालय मंजूर किए जाने से इंकार कर दिया। गुस्साए असलम और उसके दोस्तों ने पीट-पीट कर उसे दर्दनाक मौत के घाट उतार दिया और उसकी लाश को गांव के तालाब में फेंक दी। 

सुबह जब गांव के लोगो को तालाब में लाश दिखी तो पुरे गांव में हड़कम मच गया। महज एक फ़र्ज़ी शौचालय के लिए उस बेकसूर की मौत हो गयी।

जानकारी के लिए बता दें कि अनिल मिश्रा प्रधान के करीबी था और गांव में प्रधानी को लेकर पहले से ही विवाद चल रहा था। पुलिस अधिकारी के मुताबिक, मृतक को फर्जी तरीके से शौचालय बनवाने का विरोध करने की सजा दी गई। 

पुलिस ने कत्ल में शामिल 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बता दे इस हत्या से जुड़े मुख्य आरोपी असलम समेत 4 अन्य लोग अभी भी फरार हैं। पुलिस द्वारा इस मामले के फरार आरोपियों की तलाश जारी है।