पप्पू पर पत्थर फेंकना "लोकतंत्र की हत्या", सैनिको को पत्थर मारना "अभिव्यक्ति की आज़ादी" : कांग्रेस



कांग्रेस ने साफ़ कर दिया है की पप्पू पर पत्थर फेंकना "लोकतंत्र की हत्या", सैनिको को पत्थर मारना "अभिव्यक्ति की आज़ादी" 

जी हां, ये बात हम ऐसे ही नहीं कह रहे है 
गुजरात में राहुल गाँधी ने बुलेट प्रूफ गाड़ी लेने से इंकार कर दिया और जानबूझकर कार्यकर्त्ता की गाड़ी में बैठकर गए, 1 सीसा तोड़ दिया गया, फिर राजनीती शुरू कर दी गयी 

"बीजेपी ने कर दिया राहुल गाँधी पैट जानलेवा हमला"
"राहुल गाँधी को आरएसएस ने की जान से मारने की कोशिश"

कोंग्रेसी नेता एक के बाद एक ट्वीट करते गए, और अंततः कांग्रेस ने कहा की राहुल गाँधी की गाड़ी पर पत्थर फेंकना लोकतंत्र की हत्या है 

ये वही कांग्रेस पार्टी है जिसकी सांसद रंजीत रंजन ने सेना पर पत्थर मारने वाले पत्थरबाजों को अपना भाई बताया था, इसी कांग्रेस के नेता संदीप दीक्षित ने पत्थरबाजों के खिलाफ बयान देने पर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत को सड़क का गुंडा बताया था 

कांग्रेस ने बिलकुल साफ कर दिया की राहुल गाँधी पर पत्थर फेंकना "लोकतंत्र की हत्या", सैनिको को पत्थर मारना "अभिव्यक्ति की आज़ादी"